Create
Notifications

कैस्टर ऑयल के फायदे और नुकसान : Castor Oil Ke Fayde Aur Nuksan

कैस्टर ऑयल के फायदे और नुकसान (फोटो - myupchar)
कैस्टर ऑयल के फायदे और नुकसान (फोटो - myupchar)
reaction-emoji
Naina Chauhan

अरंडी (कैस्टर ऑयल) का तेल का उपयोग ज्यादातर बालों और त्वचा के लिए होता है लेकिन पुराने समय से कई विकारों को ठीक करने में इस तेल का उपयोग किया जाता रहा है। अरंडी (कैस्टर ऑयल) (Arandi ke Tel) का तेल मानव के शारीरिक स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद है। अरंडी का तेल (Arandi ke Tel) यानी कैस्टर ऑयल (Castor Oil) पेट से संबंधित हर तरह की समस्याओं को दूर करता है। खासकर, कब्ज से आप परेशान हैं, तो इसका इस्तेमाल करें। इसके अलावा, जोड़ों के दर्द को दूर करने के लिए भी अरंडी के तेल का यूज होता आया है। इतने फायदों के बाद भी अरंडी के तेल के कुछ नुकसान (Castor Oil side effects) भी होते हैं। जानें, अरंडी के तेल के फायदे के साथ-साथ नुकसान (Castor Oil side effects in hindi) क्या-क्या हैं।

कैस्टर ऑयल (अरंडी) के फायदे और नुकसान - Castor Oil Benefits And Side Effects In Hindi

कैस्टर ऑयल के फायदे -

इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए - कैस्टर ऑयल (अरंडी) को अगर दूध के साथ पीते हैं तो इससे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाया जा सकता है। यह इम्यूनिटी को मजबूत कर रोगों से लड़ने में मदद करता है।

बालों की ग्रोथ के लिए - कैस्टर ऑयल (अरंडी) के इस्तेमाल से बालों की ग्रोथ में मदद मिलती है। इसे बालों पर लगाने से बालों का विकास अच्छा होता है। यह बालों को घना और मजबूत बनाता है। इसमें ओमेगा-6 फैटी एसिड होता है, तो स्कैल्प में ब्लड सर्कुलेशन को बढ़ाता है।

जोड़ों के दर्द से राहत - कैस्टर ऑयल (अरंडी) को दूध के साथ पीने से इस ड्रिंक के पोषक तत्व बढ़ जाते हैं। क्योंकि इसमें अरंडी के तेल के साथ ही दूध भी मिला होता है। दूध में अच्छी मात्रा में कैल्शियम पाया जाता है। ऐसे में यह जोड़ों के दर्द में भी राहत दिलाने में मददगार होता है। इससे हड्डियां मजबूत होती हैं और जोड़ों में दर्द की समस्या भी नहीं होती है।

कैस्टर ऑयल के नुकसान

डायरिया की परेशानी - कैस्टर ऑयल (अरंडी के तेल) के तेल से बच्चों में डायरिया यानी दस्त की समस्या हो सकती है। दस्त होने पर पेट दर्द, ऐंठन, मरोड़, उल्टी, जी मिचलाना आदि परेशानियां होने लगती हैं। डायरिया का समय पर इलाज ना किया जाए, तो शरीर में पानी की कमी हो सकती है।

त्वचा पर फुंसियों की समस्या - लोगों को प्रदूषण, अधिक जंक फूड का सेवन, त्वचा की साफ-सफाई का ध्यान ना रखना आदि की वजह से त्वचा की समस्या हो सकती है। इससे त्वचा में जलन, लाल चकत्ते, फोड़े-फुंसी आदि होने लगती है। कई बार अरंडी (Castor) के तेल का अधिक यूज भी त्वचा पर जलन पैदा कर देता है, जिससे स्किन लाल पड़ जाती है।

मांसपेशियों में दर्द और ऐंठन - अरंडी के तेल (कैस्टर ऑयल) का अधिक इस्तेमाल करने से मांसपेशियों में ऐंठन का कारण बन सकता है। यदि समस्या अधिक गंभीर हो, तो डॉक्टर से जरूर मिलें।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।


Edited by Naina Chauhan
reaction-emoji

Comments

Fetching more content...