मोतियाबिंद के कारण, लक्षण और 5 घरेलू उपचार - Cataract Causes, Symptoms And 5 Home Remedies

मोतियाबिंद के कारण, लक्षण और घरेलू उपचार (फोटो - sportskeedaहिन्दी)
मोतियाबिंद के कारण, लक्षण और घरेलू उपचार (फोटो - sportskeedaहिन्दी)

सभी के लिए उनके नेत्र अनमोल होते हैं, लेकिन कुछ समस्याओं में उन्हें क्षति पहुंच सकती है। जरा सी लापरवाही आँखों को नुकसान पंहुचा सकती है, यह आँखों की बीमारी का कारण भी बन सकती है और मोतियाबिंद उन्हीं में से एक है। मोतियाबिंद के कारण कम दिखने की समस्या या फिर धुंधला दिखने लगता है। यह लेख आपको मोतियाबिंद से जुड़ी सभी जानकारी देगा। इस लेख में हमने मोतियाबिंद के कारण, लक्षण और घरेलू उपचार (Cataract Causes, Symptoms And Home Remedies) का उल्लेख किया है। इस विषय पर जानने के लिए लेख को पूरा पढ़ें।

मोतियाबिंद के कारण, लक्षण और 5 घरेलू उपचार

मोतियाबिंद के कारण : Cause of Cataract In Hindi

मोतियाबिंद के कारण कुछ इस प्रकार के हो सकते हैं -

- मधुमेह या ग्लूकोमा

- आंख की पुरानी बीमारी या सर्जरी

- आंखों में सूजन

- स्टेरॉयड का लंबा इस्तेमाल

- धूम्रपान

- प्रोटीन के कारण लेंस में धुंधलापन आना

- आंख पर घाव या चोट या आंखों की सर्जरी

- रेडिएशन

- परिवार में किसी को पहले मोतियाबिंद की शिकायत होना

मोतियाबिंद के लक्षण : Symptoms of Cataract In Hindi

मोतियाबिंद के लक्षणों में शामिल हैं -

- धुंधली दृष्टि

- रात में कम दिखाई देना

- प्रकाश और चकाचौंध के प्रति संवेदनशीलता

- पढ़ने और अन्य गतिविधियों के लिए तेज रोशनी की आवश्यकता

- रोशनी के इर्दगिर्द "गोलाकार की आकृति" देखना

- चश्मे या कॉन्टैक्ट लेंस के नंबर में बार-बार बदलाव

- रंगों का फीका पड़ना या पीला दिखना

- एक आँख में दोहरी दृष्टि महसूस होना

मोतियाबिंद के घरेलू उपचार : Cataract Home Remedies In Hindi

1. लहसुन का सेवन करें (Garlic)

लहसुन में एंटी-ऑक्सीडेंट गुण पाए जाते हैं जो आंखों में ऑक्सिडेटिव तनाव के कारण होने वाले प्रभाव को कम कर के मोतियाबिंद को रोकने में मददगार हैं। इसके लिए आप लहसुन की कलियों को चबाकर खा सकते हैं।

2. नींबू का रस होगा फायदेमंद (Lemon Juice)

नींबू में एंटी-ऑक्सीडेंट गुण पाए जाते हैं जो मोतियाबिंद की समस्या को कम करने में सहायक है। उपयोग के लिए, आप नींबू के रस के साथ पानी मिलाएं और इसे रुई की मदद से आँखों पर लगाएं।

3. विटामिन सप्लीमेंट (Vitamin supplement)

विटामिन E, विटामिन C, विटामिन A व विटामिन B, एंटी-ऑक्सीडेंट से समृद्ध होते हैं। यह मोतियाबिंद से आँखों का बचाव करते हैं। इन विटामिन युक्त खाद्य पदार्थ (सिट्रिक फल, हरी सब्जियां, दूध, पनीर, अंडे, एवोकाडो, बादाम) का चयन करने से लाभ मिल सकते हैं या फिर आप विटामिन सप्लीमेंट का चुनाव भी कर सकते हैं, लेकिन इससे पहले अपने डॉक्टर से परामर्श जरूर करें।

4. गाजर का जूस (Carrot juice)

आँखों के लिए गाजर फायदेमंद होती है। यह मोतियाबिंद के खतरे से भी बचाव करती है। गाजर का रस डाइरटी कैरोटीनॉयड का अच्छा स्रोत माना जाता है, जो मोतियाबिंद और अन्य नेत्र रोगो में मददगार हो सकता है। इसके लिए आप गाजर के रस को प्रतिदिन अपनी डाइट में शामिल करें।

5. अरंडी तेल (Castor Oil)

अरंडी तेल में भरपूर मात्रा में एंटी-ऑक्सीडेंट्स गुण पाए जाते हैं। यह नेत्र को होने वाली क्षति को ठीक करने में भी मददगार है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Vineeta Kumar