चिरायता के फायदे-Chirata Ke Fayde

चिरायता के फायदे (फोटो-Healthunbox )
चिरायता के फायदे (फोटो-Healthunbox )

चिरायता (Chirata) एक आयुवेर्दिक जड़ी-बुटी है। जो औषधीय गुणों से भरपूर मानी जाती है। लेकिन इसका स्वाद बहुत कड़वा होता है। इसलिए ज्यादातर लोग इसका सेवन करना पसंद नहीं करते हैं। लेकिन स्वास्थ्य के लिए यह बहुत फायदेमंद मानी जाती है। इसके सेवन से कई बीमारियां जड़ से खत्म हो जाती है। चिरायता का सेवन करने से किसी भी प्रकार का बुखार सही हो जाता है। चिरायता में एंटी-ऑक्सीडेंट, ग्लाइकोसाइड्स और एलिकॉइड होते हैं। जानिए चिरायता खाने के फायदों के बारे में।

चिरायता के फायदे (Chirata Ke Fayde In Hindi)

ब्लड को करता है साफ

चिरायता का सेवन करने से ब्लड साफ होता है। चिरायता में रक्त साफ करने वाले कई गुण पाए जाते हैं। इसलिए इसका सेवन सभी को करना चाहिए।

वजन आसानी से करता है कम

आजकल की गलत खान-पान की वजह से लोगों का वजन बढ़ता जा रहा है। वजन को कम करना लोगों की प्रमुख समस्या बन गई है। अगर किसी को वजन कम करना हो, तो उसको चिरायता का सेवन करना चाहिए। इसके सेवन से वजन आसानी से कम हो जाता है।

त्वचा के लिए फायदेमंद

चिरायता का अर्क त्वचा से संबंधित कई रोगों में फायदेमंद माना जाता है। अगर किसी को चेहरे पर पिंपल्स की समस्या हो या त्वचा पर सूजन की शिकायत हो, तो उसे चिरायता का लेप बनाकर लगाना चाहिए।

डायबिटीज मरीजों के लिए फायदेमंद

चिरायता डायबिटीज (Diabetes) के मरीजों के लिए किसी रामबाण से कम नहीं माना जाता है। डायबिटीज मरीजों को चिरायता का सेवन करना चाहिए। इसके सेवन से शुगर लेवल कंट्रोल में रहता है।

भूख बढ़ती है

अगर किसी को भूख न लगने की समस्या होती है, तो उसे चिरायता का सेवन करना चाहिए। इसके सेवन से भूख बढ़ जाती है।

बुखार को करता है जड़ से खत्म

चिरायता किसी भी प्रकार के बुखार (Fever) में फायदेमंद माना जाता है। चिरायता के सेवन से बुखार तुरंत कम हो जाता है। चिरायता पुराने से पुराना बुखार जड़ से खत्म कर देता है।

आंखों के लिए फायदेमंद

चिरायता को आंखों का टॉनिक (Eye Tonic) कहा जाता है। इसके सेवन से आंखों की रोशनी बढ़ती है। क्योंकि इसमें विटामिन सी की अच्छी मात्रा पाई जाती है। विटामिन-सी आंखों की रोशनी बेहतर रखने और उम्र से संबंधित आंखों की बीमारियों से बचाव करता है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Rakshita Srivastava