लिवर की सारी गंदगी केवल एक बार में साफ़ करें, अपनाएं ये देसी उपाय

लिवर की सारी गंदगी केवल एक बार में साफ़ करें, अपनाएं ये देसी उपाय (फोटो - sportskeedaहिन्दी)
लिवर की सारी गंदगी केवल एक बार में साफ़ करें, अपनाएं ये देसी उपाय (फोटो - sportskeedaहिन्दी)

लिवर शरीर के सबसे महत्वपूर्ण अंगों में से एक है, जो रक्त को विषमुक्त करने और पोषक तत्वों के चयापचय के लिए जिम्मेदार है। हालांकि, खराब आहार और जीवन शैली की आदतों से लिवर में विषाक्त पदार्थों का निर्माण हो सकता है, जो समय के साथ अपने कार्य से समझौता कर सकता है। सौभाग्य से, ऐसे कई घरेलू उपचार हैं जिन्हें आप लिवर को साफ करने और सहारा देने के लिए आजमा सकते हैं।

लिवर की सारी गंदगी केवल एक बार में साफ़ करें, अपनाएं ये देसी उपाय : Clean Your Liver With These 7 Home Remedies In Hindi

youtube-cover

1. नींबू पानी: सुबह सबसे पहले नींबू पानी पीने से लिवर को उत्तेजित करने और विषहरण में सहायता मिल सकती है। बस एक गिलास गर्म पानी में आधा नींबू निचोड़ें और नाश्ते से पहले पिएं।

2. हल्दी की चाय: हल्दी में करक्यूमिन नामक एक यौगिक होता है, जिसमें एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं जो लिवर के स्वास्थ्य को लाभ पहुंचा सकते हैं। पानी को उबालकर उसमें एक चम्मच हल्दी पाउडर और एक चुटकी काली मिर्च डालकर एक कप हल्दी की चाय बनाएं। पीने से पहले इसे कुछ मिनट के लिए भीगने दें।

3. सेब का सिरका: सेब का सिरका शरीर को अल्कलाइज़ करने और लिवर के विषहरण को बढ़ावा देने में मदद कर सकता है। एक गिलास पानी में एक चम्मच एप्पल साइडर विनेगर मिलाएं और भोजन से पहले पिएं।

4. सिंहपर्णी चाय: पारंपरिक रूप से सिंहपर्णी की जड़ की चाय का उपयोग यकृत के स्वास्थ्य और विषहरण में सहायता के लिए किया जाता रहा है। 5-10 मिनट के लिए एक कप उबलते पानी में सिंहपर्णी की जड़ का एक बड़ा चम्मच डालें और आनंद लें।

5. लहसुन: लहसुन में सल्फर यौगिक होते हैं जो लिवर के कार्य को उत्तेजित करने और विषहरण में सहायता कर सकते हैं। अपने भोजन में लहसुन शामिल करें या लहसुन पूरक लेने का प्रयास करें।

6. व्यायाम: नियमित व्यायाम सूजन को कम करके और रक्त प्रवाह को बढ़ावा देकर लिवर के स्वास्थ्य में मदद कर सकता है। प्रति दिन कम से कम 30 मिनट के मध्यम व्यायाम का लक्ष्य रखें।

7. हाइड्रेशन: हाइड्रेटेड रहना लिवर के स्वास्थ्य के लिए महत्वपूर्ण है, क्योंकि यह विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने में मदद करता है और लिवर के उचित कार्य का समर्थन करता है। प्रतिदिन कम से कम 8 गिलास पानी पीने का लक्ष्य रखें।

इन घरेलू उपचारों को अपनी दिनचर्या में शामिल करके, आप लिवर को स्वस्थ रखने और विषहरण को बढ़ावा देने में मदद कर सकते हैं। हालांकि, यदि आपके पास यकृत की कोई स्थिति या चिंता है, तो अपने आहार या जीवनशैली में कोई भी बदलाव करने से पहले अपने स्वास्थ्य सेवा प्रदाता से बात करना महत्वपूर्ण है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

App download animated image Get the free App now