Create

नाश्ते में ठंडी चीज खाने के नुकसान : Nashte Mein Thandi Cheez Khane Ke Nuksan

नाश्ते में ठंडी चीज खाने के नुकसान (फोटो - sportskeeda hindi)
नाश्ते में ठंडी चीज खाने के नुकसान (फोटो - sportskeeda hindi)
reaction-emoji
Naina Chauhan

ब्रेकफास्ट करना हर किसी के लिए बहुत जरूरी है। ब्रेकफास्ट व्यक्ति के पूरे दिन का सबसे महत्वपूर्ण भोजन होता है। नाश्ता करने से व्यक्ति को पूरे दिन अन्य कामों को करने लिए एनर्जी मिलती है दिन को ऊर्जा मिलती है, पाचन तंत्र में सुधार होता है और कई स्वास्थ्य समस्याओं का जोखिम कम होता है। हर रोज नाश्ता करने से व्यक्ति का दिल स्वस्थ रहता है और इसके साथ ही शरीर में ब्लड शुगर लेवल भी नियंत्रित रहता है। वहीं, अगर कोई व्यक्ति ब्रेकफास्ट नहीं करता हैं तो इससे उसकी सेहत को नुकसान पहुंच सकता है (Side Effects Of Skipping Breakfast In Hindi)।

वहीं जब ब्रेकफास्ट की बात आती है, तो व्यक्ति को ब्रेकफास्ट में किन फूड्स (Foods Having In Breakfast) का सेवन करना चाहिए, इसकी भी अहम भूमिका होती है। आयुर्वेद के अनुसार कहा जाता है कि हमेशा नाश्ते में कुछ गर्म फूड्स का सेवन ही करना चाहिए (Why Should Eat Warm Breakfast In Hindi ), क्योंकि नाश्ते में कुछ ठंडा खाना व्यक्ति के पूरे दिन को खराब कर सकता है। तो चलिए विस्तार से जानेंगे व्यक्ति को नाश्ते में गर्म चीजें (Warm Breakfast Health Benefits in Hindi) क्यों खानी चाहिए और नाश्ते में ठंडी चीजें खाने के नुकसान।

नाश्ते में ठंडी चीजें खाने के नुकसान (Cold Breakfast Side Effects In Hindi)

आयुर्वेद में कहा जाता है कि अगर कोई नाश्ते में ठंडी चीजें खाता है तो इससे पेट से संबंधित समस्याएं हो सकती हैं, जैसे पेट में सूजन, ब्लोटिंग और ऐंठन, कब्ज। इसके साथ ही आपके पेट में मौजूद आंत अत्यंत गर्मी के प्रति संवेदनशील है, ऐसे में जब आप ठंडी चीजों का सेवन करते हैं तो इससे पूरे शरीर को झटका लगता है। वहीं इसके चलते व्यक्ति को पाचन संवेदनशीलता, थकान और साइनस संक्रमण जैसी अन्य समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। बता दें आयुर्वेद के अनुसार ठंडा नाश्ता केवल उच्च पित्त वाले लोगों के लिए ही है। दूसरों के लिए गर्म नाश्ता सबसे अच्छा माना जाता है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।


Edited by Naina Chauhan
reaction-emoji

Comments

Fetching more content...