Create

दांत दर्द के घरेलू इलाज - Daant dard ke gharelu ilaj

दांत दर्द के घरेलू इलाज (फोटो-Hari bhoomi )
दांत दर्द के घरेलू इलाज (फोटो-Hari bhoomi )

आजकल दांत में दर्द (Toothache) की शिकायत एक आम समस्या बन गई है। फिर चाहे बच्चें हो या बड़े-बूढ़े सभी को दांतों में दर्द की शिकायत हो रही है। दांत के दर्द की तकलीफ बहुत असहनीय होती है। कभी-कभी दांत दर्द की वजह से मसूड़े, सिर और कान में भी दर्द होने लगता है। जिसकी वजह से लोगों की परेशानियां बढ़ जाती है। जानिए दांत दर्द के कुछ घरेलू इलाज (Home remedies) के बारे में।

दांत दर्द के कारण

  • सही तरीके से ब्रश न करना
  • कैविटी की शिकायत
  • दांत पीसने की आदत
  • दांतो में कमजोरी
  • अक्ल दाढ़ का आना

दांत दर्द के घरेलू इलाज (Daant dard ke gharelu ilaj in hindi)

फिटकरी के पानी से कुल्ला

फिटकरी (Alum ) दांत दर्द में किसी रामबाण से कम नहीं माना जाता है। दांत दर्द की शिकायत होने पर फिटकरी के पानी का इस्तेमाल करना चाहिए। इससे दांत दर्द में तुरंत आराम मिल जाता है। इसके लिए थोड़े से पानी में फिटकरी डालकर ऊबाल लीजिए। फिर उसी पानी से कुल्ला कर लीजिए।

लौंग का तेल

दांत दर्द में लौंग (Clove ) का तेल भी काफी फायदेमंद माना जाता है। जब भी दांत दर्द की शिकायत हो तो लौंग के तेल को दांत में लगा लीजिए । या फिर एक लौंग को दांत के नीचे दबाने से भी आराम मिलता है।

फिटकरी और सरसों का तेल

दांत दर्द में फिटकरी और सरसों के तेल (Mustard oil) का भी इस्तेमाल किया जा सकता है। सरसों का तेल और फिटकरी दोनों ही दांत दर्द में काफी फायदा पहुंचाते हैं। इसके लिए आप फिटकरी को पीस के पाउडर बना लीजिए। फिर उसमें सरसों का तेल मिलाकर दर्द वाले दांतों पर लगा लीजिए।

अमरूद के पत्ते और हल्दी

अमरूद (Guava) के पत्ते भी दांत दर्द से तुरंत आराम दिलाते हैं। इसके लिए आपको अमरूद के पत्तों को पीसकर उसमें हल्का सा हल्दी पाउडर मिलाना है। इसके बाद रूई की मदद से उसको दांतो पर लगाना है।

लहसुन और काली मिर्च

दांत दर्द में लहसुन(Garlic) और काली मिर्च भी फायदेमंद साबित होते हैं। इसके लिए आप लहसुन की दो से तीन कल्लियां ले लीजिए। फिर उसमें काली मिर्च पाउडर को मिलाकर दांतो पर लगाइए। इसके दर्द में काफी आराम मिलता है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Rakshita Srivastava
Be the first one to comment