Create

डिहाइड्रेशन के लक्षण और घरेलू उपाय - Dehydration Ke Lakshan Aur Gharelu Upay

डिहाइड्रेशन के लक्षण और घरेलू उपाय (फोटो - sportskeedaहिन्दी)
डिहाइड्रेशन के लक्षण और घरेलू उपाय (फोटो - sportskeedaहिन्दी)

डिहाइड्रेशन शरीर में पानी की कमी होने की स्थिति को कहते हैं। हमारा शरीर 70% पानी से बना होता है, ऐसे में किसी भी कारण से पानी की कमी हो जाने से डिहाइड्रेशन की समस्या उत्पन्न हो सकती है। आमतौर पर गर्मी के मौसम में ऐसा होता है, जब हमारे शरीर में पानी की कमी हो जाती है। यह स्थिति किसी भी मनुष्य को हो सकती है चाहे वो बच्चे हों या बुजुर्ग। इस लेख के माध्यम से डिहाइड्रेशन (Dehydration) के लक्षण और इसके घरेलू उपाय बताए गए हैं।

डिहाइड्रेशन के लक्षण और घरेलू उपाय - Dehydration Ke Lakshan Aur Gharelu Upay In Hindi

डिहाइड्रेशन के लक्षण : Dehydration Symptoms In Hindi

डिहाइड्रेशन हल्का, मध्यम या गंभीर हो सकता है, जो इस बात पर निर्भर करता है कि आपके शरीर का वजन तरल पदार्थों के माध्यम से कितना कम हो गया है। प्यास लगना, चक्कर आना या कमजोरी, सिरदर्द, थकान, मुँह सूखना, होंठ और आँखें शुष्क होना, पेशाब का रंग गहरा होना, कम मात्रा में पेशाब होना (दिन में तीन या चार बार से कम) डिहाइड्रेशन के लक्षणों में से हैं।

डिहाइड्रेशन गंभीर होने पर निम्न लक्षण होते हैं - थकान (सुस्ती) या उलझन महसूस होना, मुँह सूखना और आँखों में आंसू न बनना, आठ घंटे तक पेशाब न होना, त्वचा शुष्क और ढीली पड़ जाना, हृदय की धड़कन बढ़ना, उल्टी या मल में खून आना, निम्न रक्तचाप (हाइपोटेंशन), चिड़चिड़ापन, आंखें धंस जाना, नब्ज कमजोर होना, हाथ पैर ठंडे पड़ जाना, दौरे पड़ना, भ्रम होना। गंभीर डिहाइड्रेशन एक आपातकालीन स्थिति है, ऐसे में तत्काल डॉक्टर के पास जाएं।

डिहाइड्रेशन के घरेलू उपाय : Dehydration Home Remedies In Hindi

- नारियल पानी के सेवन से डिहाइड्रेशन को नियंत्रित किया जा सकता है। दरअसल, नारियल पानी के सेवन से शरीर में पोटैशियम और सोडियम की आपूर्ति तुरंत होती है, जिससे डिहाइड्रेशन काफी हद तक नियंत्रित हो जाता है।

- छाछ के सेवन से भी डिहाइड्रेशन में सुधार लाया जा सकता है। दरअसल, छाछ पोटैशियम और मैग्‍नीशियम से युक्त एक नेचुरल प्रोबायोटिक है, जिसके दो से चार बार सेवन के बाद डिहाइड्रेशन में काफी हद तक सुधार लाया जा सकता है।

- सूप शरीर में मिनरल्‍स के साथ पानी की आपूर्ति करता है, इसके सेवन से भी डिहाइड्रेशन में सुधार लाया जा सकता है।

- नींबू पानी, जूस, ओआरएस आदि के सेवन से भी डिहाइड्रेशन पर काफी हद तक नियंत्रण पाया जा सकता है। जितना हो सके पानी पिएं। अधिक प्रभाव के लिए इलेक्ट्रोलाइट्स (सोडियम, पोटैशियम, मैग्नीशियम और कैल्शियम) युक्त तरल का सेवन करें और नमक का अधिक सेवन ना करें।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Vineeta Kumar
Be the first one to comment