किडनी स्टोन होने पर ना करें इन 7 चीज़ों का सेवन

किडनी स्टोन होने पर ना करें इन 7 चीज़ों का सेवन (फोटो - sportskeedaहिन्दी)
किडनी स्टोन होने पर ना करें इन 7 चीज़ों का सेवन (फोटो - sportskeedaहिन्दी)

यदि आपके पास गुर्दा की पथरी है, तो अपने आहार के बारे में सावधान रहना महत्वपूर्ण है और कुछ ऐसे खाद्य पदार्थों और पेय पदार्थों से बचें जो संभावित रूप से स्थिति को खराब कर सकते हैं या नए पत्थरों के विकास के जोखिम को बढ़ा सकते हैं। यदि आपको गुर्दे की पथरी है तो आपको जिन चीजों से बचना चाहिए, उन पर प्रकाश डालते हुए यहां कुछ बिंदु दिए गए हैं:-

किडनी स्टोन होने पर ना करें इन 7 चीज़ों का सेवन (Do Not Consume These 7 Things If You Have Kidney Stone In Hindi)

ऑक्सालेट युक्त खाद्य पदार्थ

गुर्दे की पथरी में अक्सर ऑक्सालेट होता है, इसलिए ऑक्सालेट में उच्च खाद्य पदार्थों को सीमित करने या उनसे बचने की सलाह दी जाती है। उदाहरणों में पालक, एक प्रकार का फल, चुकंदर, भिंडी, चॉकलेट, मेवा, और चाय शामिल हैं। हालांकि, यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि सभी गुर्दे की पथरी ऑक्सालेट से नहीं बनती है, इसलिए अपनी विशिष्ट आहार आवश्यकताओं को निर्धारित करने के लिए स्वास्थ्य देखभाल पेशेवर या पंजीकृत आहार विशेषज्ञ से परामर्श करना सबसे अच्छा है।

सोडियम (salt)

उच्च सोडियम सेवन आपके मूत्र में कैल्शियम की मात्रा बढ़ा सकता है, जो गुर्दे की पथरी के निर्माण में योगदान कर सकता है। प्रोसेस्ड और पैकेज्ड खाद्य पदार्थों से बचें, क्योंकि उनमें अक्सर सोडियम का उच्च स्तर होता है। अपने भोजन में नमक शामिल करते समय सतर्क रहें और स्वाद के लिए वैकल्पिक मसालों या जड़ी-बूटियों का उपयोग करने पर विचार करें।

पशु प्रोटीन

अत्यधिक मात्रा में पशु प्रोटीन, जैसे रेड मीट, पोल्ट्री और सीफूड का सेवन करने से मूत्र में यूरिक एसिड और कैल्शियम का स्तर बढ़ सकता है, जिससे गुर्दे की पथरी बन सकती है। यह सलाह दी जाती है कि पशु प्रोटीन का सेवन कम करें और पौधे आधारित प्रोटीन स्रोतों जैसे फलियां और टोफू के साथ इसे संतुलित करें।

कैल्शियम युक्त खाद्य पदार्थ

हालांकि यह उल्टा लग सकता है, अत्यधिक कैल्शियम का सेवन गुर्दे की पथरी के निर्माण में योगदान कर सकता है। आहार स्रोतों से कैल्शियम का संतुलित सेवन बनाए रखना और अपनी विशिष्ट आवश्यकताओं के लिए उचित मात्रा निर्धारित करने के लिए स्वास्थ्य देखभाल पेशेवर या पंजीकृत आहार विशेषज्ञ से परामर्श करना महत्वपूर्ण है।

कैफीन और कार्बोनेटेड पेय

कैफीन मूत्र में कैल्शियम के उत्सर्जन को बढ़ा सकता है, जो पथरी के निर्माण को बढ़ावा दे सकता है। इसके अतिरिक्त, कार्बोनेटेड पेय पदार्थ अक्सर फॉस्फोरिक एसिड में उच्च होते हैं, जो गुर्दे की पथरी के जोखिम को संभावित रूप से बढ़ा सकते हैं। कॉफी, चाय और सोडा जैसे कैफीनयुक्त पेय पदार्थों को कम करने या उनसे बचने की सलाह दी जाती है।

अल्कोहल

शराब शरीर को निर्जलित कर सकती है, मूत्र उत्पादन को कम कर सकती है और पथरी बनाने वाले पदार्थों की सांद्रता बढ़ा सकती है। शराब की खपत को सीमित करना और पर्याप्त हाइड्रेशन सुनिश्चित करना महत्वपूर्ण है।

विटामिन सी की खुराक

उच्च खुराक वाले विटामिन सी की खुराक को शरीर में ऑक्सालेट में मेटाबोलाइज़ किया जा सकता है, जिससे पथरी बनने का खतरा बढ़ सकता है। अत्यधिक विटामिन सी अनुपूरण से बचने और उचित खुराक के बारे में स्वास्थ्य देखभाल पेशेवर से परामर्श करने की सिफारिश की जाती है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Vineeta Kumar
App download animated image Get the free App now