Create

गन्ने के जूस के फायदे और नुकसान : Ganne Ke Juice Ke Fayde Aur Nuksan

गन्ने के जूस के फायदे और नुकसान (फोटो - sportskeedaहिन्दी)
गन्ने के जूस के फायदे और नुकसान (फोटो - sportskeedaहिन्दी)

गन्ने का जूस (Sugarcane Juice) शरीर के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है। इसमें मौजूद गुण इसको स्वास्थ के लिए लाभ दायक बनाते हैं। इसमें कैल्शियम, पोटैशियम, आयरन, मैग्नेशियम और फॉस्फोरस जैसे आवश्यक पोषक तत्व पाए जाते हैं व इनसे हड्डि‍यां मजबूत बनती हैं और दांतों की समस्या भी कम होती है। गन्ने के रस के ये पोषक तत्व शरीर में खून के बहाव को भी सही रखते हैं। वहीं इस रस में कैंसर व मधुमेह जैसी जानलेवा बीमारियों से लड़ने की ताकत भी होती है। लेकिन इसके कुछ नुकसान भी है, इस लेख में गन्ने के रास के फायदे और नुकसान दोनों के बारे में चर्चा की गयी है।

गन्ने के जूस के फायदे और नुकसान : Ganne Ke Juice Ke Fayde Aur Nuksan In Hindi

गन्ने के रास के फायदे :-

शरीर को इंस्टेंट एनर्जी प्रदान करे (Provides instant energy)

गन्ने का जूस कार्बोहाइड्रेट्स से समृद्ध होता है, जिस कारण इसका सेवन लंबे समय तक ऊर्जावान बनाए रखने में सहायक हो सकता है। शरीर में लंबे समय तक ऊर्जा बनाए रखने के लिए और मसल्स में ताकत बनाए रखने के लिए कार्बोहाइड्रेट्स की जरूरत होती है।

पीलिया में मददगार (Cures Jaundice)

गन्ने का जूस लिवर से संबंधित पीलिया बीमारी के लिए फायदेमंद माना जाता है। गन्ने के जूस के फायदे पीलिया से तुरंत आराम पाने में मदद कर सकते हैं। पीलिया एक स्तिथि है, जब शरीर में बिलीरुबिन अधिक बढ़ जाता है। बिलीरुबिन एक पीला पिगमेंट होता है, जो लिवर में लाल रक्त कोशिकाओं के टूटने से बनता है। इस स्थिति पर काबू पाने के लिए रोजाना एक गिलास ताजा गन्ने का रस पीया जा सकता है।

कैंसर रोगियों के लिए लाभदायक (Beneficial for cancer patients)

कैंसर से बचाने में भी गन्ने का जूस पीने के फायदे देखे गए हैं। इस जूस में ट्रायसिन नामक एक फ्लेवोन पाया जाता है, जो एंटीऑक्सीडेंट गुणों से भरपूर होता है। साथ ही अपने एंटी-प्रोलाइफरेटिव गतिविधि के कारण गन्ने का जूस कई तरह की कैंसर की कोशिकाओं को पनपने से रोक सकता है।

इम्युनिटी बढ़ाने में सक्षम (Helps the immunity system)

गन्ना खाने के फायदे इम्युनिटी बढ़ाने में मिल सकते हैं। प्रतिरक्षा प्रणाली यानी इम्यून सिस्टम शरीर को कई तरह के संक्रमण और बीमारियों से बचाने में सहायक हो सकता है। गन्ने का अर्क कई तरह के बैक्टीरियल व वायरल संक्रमण से बचाने के साथ-साथ रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में भी मदद कर सकता है।

गले से जुड़ी समस्याएं (Treats Throat Related Problems)

गन्ने के जूस के फायदे यहां समाप्त नहीं होते, गन्ने के रस का सेवन गले के दर्द के लिए भी किया जा सकता है। जब कोई गले से जुड़ी समस्या जैसे टॉन्सिल्स से परेशान हो, तो उन्हें गन्ने के जूस का सेवन करने से फायदा मिल सकता है। जब टॉन्सिल्स (गले के पिछले हिस्से के टिश्यू) में सूजन आ जाती है, तो वो दर्द और तकलीफ का कारण बन सकते हैं। वहीं, गन्ने का जूस गला खराब, जुकाम और फ्लु जैसी समस्याओं को ठीक करने में भी मदद कर सकता है ।

गन्ने के रास के नुकसान :-

- सड़क किनारे बिकने वाले गन्ने के जूस से बचें, क्योंकि इस रस में हानिकारक कीटाणु हो सकते हैं, जो पेट संबंधी समस्या का कारण बन सकते हैं।

- गन्ना ठंडी तासीर का होता है, इसलिए सर्दियों में इसके सेवन से बचें, वरना सर्दी-जुकाम हो सकता है।

- लंबे समय तक रखे गए गन्ने के जूस में कीटाणु जैसे यीस्ट, बैक्टीरिया और फंगस पनप सकते हैं, जिससे गन्ने के रस के नुकसान झेलने पड़ सकते हैं।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Vineeta Kumar
Be the first one to comment