Create

गर्भावस्था के दौरान पीठ दर्द से राहत कैसे पाएं- Garbhawastha ke dauran pith dard se rahat kaise paye

गर्भावस्था के दौरान पीठ दर्द से राहत कैसे पाएं
गर्भावस्था के दौरान पीठ दर्द से राहत कैसे पाएं

how to get relief from back pain during pregnancy in hindi: गर्भावस्था के दौरान महिलाओं को ज्यादातर पीठ दर्द और कमर दर्द की समस्या रहती है। इसके पीछे कारण यह है कि, इस दौरान गर्भाशय का आकार बड़ा होता है जिसकी वजह से मांसपेशियों में खिंचाव पैदा होता है और इससे डिलीवरी के बाद यह खिंचाव ढीला होने लगता है। इसके चलते पीठ की समस्या रहती है। साथ ही हार्मोन में बदलाव और कमजोरी के चलते भी पीठ दर्द और कमर दर्द होता है। गर्भावस्था में वजन बढ़ने के साथ ही मांसपेशियों में असंतुलन और शारीरिक थकावट के चलते भी पीठ दर्द की समस्या रहती है। जो महिलाएं इससे परेशान हैं वो कुछ उपायों के जरिए इससे राहत पा सकती हैं।

गर्भावस्था के दौरान पीठ दर्द से राहत कैसे पाएं

गर्भवती महिलाएं पीठ दर्द से राहत पाने के लिए करें तैराकी (swimming for Pregnant women)

गर्भवती महिलाओं के लिए तैराकी पीठ दर्द की समस्या से राहत पाने के लिए अच्छा तरीका हो सकता है। तैराकी के वक्त शरीर हल्का हो जाता है और साथ ही गुरुत्व बल ना के बराबर रहता है। जिससे पानी में हाथ-पैर और मांसपेशियों को आसानी से चला सकती हैं। इस दौरान लंबी और गहरी सांस लेने से मानसिक और शारीरिक रूप से भी राहत मिलता है। हालांकि, अगर इस दौरान चक्कर महसूस हो तो तुरंत पानी से बाहर निकल जाएं।

पीठ के पीछे सपोर्ट लगाने से मिलता है राहत (support behind the back)

अगर सुबह के वक्त कमर और पीठ में दर्द रहता है, तो इसके लिए एक तौलिए को गोल बनाकर पीठ के पीछे रीढ़ के समांतर रखने से लाभ मिल सकता है। साथ ही प्रेगनेंसी के तीसरे महीने के बाद सोते समय अपने पैरों के बीच में एक तकिया रखकर और एक तकिया पेट के नीचे रखकर सोने से भी लाभ मिलता है।

गर्भावस्था में पीठ दर्द से बचने के लिए सही जूते पहने (Wearing the right footwear to avoid back pain during pregnancy)

सबसे जरूरी चीज है कि आप अपने पैरों में क्या पहनती हैं। क्योंकि, हाई हील्स अक्सर पीठ और कमर दर्द का कारण होता है। ऐसे में प्रेगनेंसी के दौरान हाई हील्स से बचे तो अच्छा रहेगा, वरना परेशानी और भी बढ़ सकती है। ऐसे में स्पोर्ट शूज पहनना सही रहता है या फिर कम हील्स वाले जूतों को पहने।

सेंधा नमक से दूर होगा पीठ दर्द (rock salt benefits in pregnancy)

गर्भावस्था में पीठ दर्द से राहत पाने के लिए सेंधा नमक के पानी से नहाना सही रहता है। इसके लिए गर्म पानी में सेंधा नमक डालकर नहाएं। सेंधा नमक में मैग्नीशियम सल्फेट होता है जो मांसपेशियों के दर्द और सूजन को कम करने में मदद करता है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Ritu Raj
Be the first one to comment