Create

घुटनों के दर्द को दूर करने के लिए 5 चमत्कारी योगासन : Yoga To Avoid Knee Pain

घुटनों के दर्द को दूर करने के लिए योगासन (फोटो - sportskeedaहिन्दी)
घुटनों के दर्द को दूर करने के लिए योगासन (फोटो - sportskeedaहिन्दी)

क्या आप अपने घुटनों में कोई पॉपिंग या क्रैकिंग की ध्वनि से डरते हैं? हम में से कई लोगों के घुटने चटक जाते हैं जब हम उठना-बैठना करते हैं, खड़े होते हैं या अपने दैनिक जीवन में अन्य गतिविधियों के दौरान ऐसा महसूस करते है। अचानक चोट लगना, अत्यधिक प्रभाव वाली गतिविधियाँ, बहुत अधिक शरीर का वजन होना, अप्रभावी पोषण, मांसपेशियों के लचीलेपन की कमी और चिकित्सा स्थिति घुटने के दर्द के पीछे के मुख्य कारण हो सकते हैं।

घुटने के दर्द से राहत के लिए अच्छे खान-पान के साथ योग भी एक उच्च इलाज साबित हुआ है। योग आसन पैर की ताकत बढ़ाकर और घुटने के जोड़ को कम करके अतिरिक्त लाभ प्रदान करते हैं। यह रक्त परिसंचरण को बढ़ाकर और आपकी कमजोर मांसपेशियों को मजबूत करके समग्र मेटाबोलिज्म में भी सुधार करती है।

घुटनों के दर्द को दूर करने के लिए 5 चमत्कारी योगासन : Yoga To Avoid Knee Pain In Hindi

1. ताड़ासन (Mountain Pose)

ताड़ासन योग मुद्रा ऊंचाई बढ़ाने और आपके शरीर को पैरों से बाहों तक स्ट्रेचिंग के लिए प्रभावी है। 30 सेकंड से 1 मिनट तक मुद्रा में रहें, आसानी से सांस लें। 5 राउंड का अभ्यास करें। शुरुआती लोगों के लिए संतुलन बनाए रखना मुश्किल हो सकता है लेकिन अभ्यास के साथ यह आसान हो जाता है। ताड़ासन आसन मुद्रा में सुधार करता है और संतुलन विकसित करता है। यह जांघों, घुटनों, एड़ी, पेट और कूल्हों की मांसपेशियों को मजबूत करता है, पेस प्लेनस (flat feet) को कम करता है।

2. त्रिकोणासन (Triangle Pose)

त्रिकोणासन पेट, कमर, जांघों और पीठ की चर्बी को जलाने के लिए बेहद फायदेमंद होता है, इसलिए यह मोटे लोगों को अतिरिक्त वजन कम करने में मदद करता है जिससे घुटने में दर्द हो सकता है। 30 सेकंड से 1 मिनट तक मुद्रा में रहें, आसानी से सांस लें। 5 राउंड का अभ्यास करें। शुरुआती लोगों के लिए संतुलन बनाए रखना मुश्किल हो सकता है लेकिन अभ्यास के साथ यह आसान हो जाता है।

3. उत्तानासन (Forward Bend Pose)

अपने पैरों को समानांतर और कूल्हे-चौड़ाई के साथ अलग रखें। सांस छोड़ते हुए धीरे-धीरे आगे की ओर मोड़ें। यदि आपकी हैमस्ट्रिंग तंग हैं या आपकी पीठ के निचले हिस्से संवेदनशील हैं, तो अपने घुटनों को मोड़ें। यह योग आसन कूल्हों, हैमस्ट्रिंग, कल्वेस को फैलाने में मदद करता है और जांघों और घुटनों को भी मजबूत करता है, इसलिए पैरों में कमजोर मांसपेशियों के कारण होने वाले घुटने के दर्द को कम करने में मदद करता है।

4. वृक्षासन (Tree Pose)

2 इंच की दूरी बनाकर खड़े रहें, सामने एक बिंदु पर ध्यान दें, सांस छोड़ते हुए दाहिने पैर को मोड़ें और पैर को बायीं जांघ के अंदर की तरफ रखें। एड़ी को पेरिनेम को छूना चाहिए। सांस भरते हुए बाजुओं को ऊपर उठाएं और हथेलियों को मिला लें। इस स्थिति को दस से तीस सेकंड तक बनाए रखें, सांस छोड़ें और बाजुओं और दाहिने पैर को नीचे लाएं। आराम करें और बायें पैर को मोड़कर इस आसन को दोहराएं। यह पैर की मांसपेशियों को टोन करता है और स्नायुबंधन को भी सुधारता है और फिर से जीवंत करता है और इसलिए इसे घुटने के दर्द से राहत के लिए योग में से एक के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है।

5. भद्रासन (The Firm/Auspicious Posture)

फर्श पर सीधे पैरों के बल बैठ जाएं। अब अपने घुटनों को मोड़ें, अपने पैरों को एक साथ लाएं ताकि तलवे एक-दूसरे को छूएं और हाथों से उन्हें अपने शरीर की ओर खींचे। अपने पैरों को पकड़ो, सीधे बैठो, अपने कंधों को आराम दो। भद्रासन योग मुद्रा आपकी जांघों, कूल्हों और नितंबों की मांसपेशियों को मजबूत करती है। इस आसन को घुटने के दर्द से राहत के लिए योग आसन के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है क्योंकि यह लचीलेपन में सुधार करता है और घुटने के दर्द को कम करता है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Vineeta Kumar
Be the first one to comment