Create

साइटिका का 4 होम्योपैथिक इलाज- sciatica ka Homeopathic ilaj

ये है साइटिका का 4 होम्योपैथिक इलाज
ये है साइटिका का 4 होम्योपैथिक इलाज

Homeopathic treatment for sciatica: कई ऐसी बीमारियां हैं जिनके बारे में हम अनजान होते हैं। आजकल भाग दौड़ भरी जिंदगी में कई सारी समस्याएं उम्र से पहले ही होने लगती हैं। इसके पीछे सबसे बड़ा कारण है एक्सरसाइज यानी कसरत से खुद को दूर रखना और दूसरी वजह अनियमित और गलत खानपान है। नियमित एक्सरसाइज और सही खान-पान पर ध्यान दे तो कई ऐसी बीमारियां हैं जो आस-पास भी नहीं भटकेंगी। सायटिका भी एक ऐसी बीमारी है जो इन दिनों किसी भी उम्र के लोगों को अपने कब्जे में ले ले रही है। इसमें नितम्बों से लेकर घुटनों के पिछले हिस्से तक और कभी-कभी एड़ी तक दर्द की एक लकीर जैसी खींची हुई महसूस होती है। यह दर्द हल्का भी होता है और कई बार असहनीय भी हो सकता है।

एक बार साइटिका हो जाने पर कुछ देर बैठे रहने के बाद उठने या फिर चलने फिरने में बहुत तकलीफदेय और सुई की चुभन जैसा दर्द होता है। इसके साथ ही इसमें कभी-कभी झनझनाहट भी होने लगती है। इसके दर्द के बारे में बात करें तो, पीठ में गंभीर दर्द हो सकता है। साथ ही संवेदनशून्यता और कमजोरी, पैर या पैर की उंगलियों पर झुकाव सहित अतिरिक्त लक्षणों से पीड़ित हो सकता है।

साइटिका का 4 होम्योपैथिक इलाज

Colocynthis Q

य़े एक होम्योपैथिक दवा है और इसे साइटिका की समस्या होने पर मरीजों को दी जाती है। इसके लाभ के बारे में बात करें तो, साइटिका में होने वाले दर्द में ये पेन किलर के तरह काम करता है और साइटिक नसों को खोलने में, उसके दबाव को कम करने में काफी असरदार है। इसके लिए सलाह दी जाती है कि, इस दवा के 20 बूंद को आधे कप पानी में दिन में 3 बार लेने से काफी आराम मिलता है।

Arnica Montana 200

साइटिका में होम्योपैथिक दवा अर्निका मोंटाना 200 (Arnica Montana 200) के काफी लाभ बताए गए हैं। इसे दो बूंद तीन बार जीभ पर लेना है। ये रक्त की आपूर्ति और तंत्रिका आपूर्ति को बढ़ाने का काम करती है। जिससे झनझनाहट और दर्द की समस्या से आराम मिल सकता है।

Viscum album 30

इस दवा को दिन में तीन बाद दो बूंद जीभ पर लेने के लिए कहा जाता है। ये दवा साइटिका तंत्रिका में काफी लाभ पहुंचाती है। उसे शक्ति प्रदान करती है।

व्यायाम करें (exercise in sciatica)

साइटिका के दर्द से बचने के लिए नियमित रूप से पैरों की एक्सरसाइज करने से काफी आराम मिल सकता है। इससे आपके पैरों की मांसपेशियां मजबूत होंगी और दर्द दूर करने वाले हार्मोन निकलते हैं।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Ritu Raj
Be the first one to comment