क्या कॉफी एक प्री वर्कआउट सप्लीमेंट के तौर पर फायदेमंद है?

कॉफी 
कॉफी 

कॉफी एक ऐसा प्री वर्कआउट सप्लीमेंट है जिसको लेने से आपके शरीर में वो ऊर्जा आ जाती है जो आपके वर्कआउट में आपकी मदद करती है। ऐसा इसलिए है क्योंकि कॉफी में कैफीन होता है जो शरीर में अमूमन 30 से 45 मिनट में असर करता है। ये शरीर के आकार और आधार पर निर्भर करता है कि कैफीन कितना समय लेगी। वैसे तो कैफीन को पूरी तरह से शरीर में एब्जॉर्ब होने में पांच से छह घंटे का समय लगता है।

ये आपके शरीर में ऊर्जा का संचार तो करती ही है, लेकिन साथ ही आपको फिट भी रखती है। कॉफी का इस्तेमाल करने से आप दिल और लिवर की बीमारी से बच सकते हैं। इसके साथ साथ इसमें कैंसर से बचने के भी ऑप्शन होते हैं, जिसकी वजह से कॉफी एक अच्छा विकल्प है।

ये भी पढ़ें: रॉक क्लाइम्बिंग को आपके वर्कआउट रूटीन का हिस्सा क्यों होना चाहिए?

एक बड़ा सवाल ये आता है कि कॉफी को दूध और चीनी के साथ ले या फिर ब्लैक कॉफी पीनी चाहिए। आपको बताते चले कि ब्लैक कॉफी को सबसे अच्छा माना जाता है, लेकिन अगर किसी वजह से आपको ऐसा लगता है ब्लैक कॉफी का स्वाद आपके मुँह के स्वाद को खराब कर देगा तो आप इसमें दूध मिला सकते हैं। ब्लैक कॉफी को वर्कआउट के लिए सबसे अच्छा माना जाता है लेकिन अगर आपको किसी अन्य प्रकार की कॉफी पसंद हो तो आप उसका सेवन भी कर सकते हैं। इस बात का खास ध्यान रखें कि कॉफी वर्कआउट से 30 से 45 मिनट पहले पीनी चाहिए।

App download animated image Get the free App now