बच्चों में दूध की एलर्जी को कैसे पहचानें

बच्चों में दूध की एलर्जी को कैसे पहचानें
बच्चों में दूध की एलर्जी को कैसे पहचानें

दूध से एलर्जी आजकल ज्यादातर लोगों को हो रही है। बड़े तो इस चीज को समझ जाते हैं, लेकिन बच्चों में अगर ये समस्या हो रही है, तो ये माता, पिता की जिम्मेदारी है कि वो इस चीज को समझे कि उन्हें दूध से एलर्जी हो रही है। बच्चों में दूध से एलर्जी की समस्या बहुत आम है। बच्चों में दूध (Milk) से एलर्जी लैक्टोज इनटॉलेरेंस के कारण होती है। दूध से बने किसी भी चीज से बच्चों को एलर्जी की समस्या होने लगती है। जब किसी को दूध से बनी चीजे या दूध हजम नहीं हो पाता है, तो उसे लैक्टोज इनटोलरेंस कहते हैं। अब बात ये आती है कि अगर किसी बच्चे को दूध से एलर्जी है, तो किस तरह से पहचाना जाएं। तो आज इस लेख में हम आपको इसी बात की जानकारी देंगे। तो चलिए जानते हैं।

बच्चों में दूध की एलर्जी को कैसे पहचानें

How to recognize milk allergy in children in hindi

अगर आपके बच्चे को दूध से एलर्जी है, तो दूध पीने पर या दूध से बने उत्पादों का सेवन करने पर पेट दर्द, उल्टी, लाल या सफेद चकत्ते, सूजन, सांस फूलना, घरघराहट महसूस हो या फिर होंठ या मुंह के आसपास खुजली आदि लक्षण दिखाई पड़ सकते हैं। अगर आप इन लक्षणों को अपने बच्चे में देख रहे हैं, तो सबसे पहले दूध को पिलाना बंद करें। साथ ही साथ दूध से बनी चीजों को भी बच्चे को न खिलाएं। वैसे तो हर बच्चे में अलग तरह के लक्षण दिखाई दे सकते हैं। इसलिए सबसे अच्छा है कि आप डॉक्टर से भी संपर्क करें। क्योंकि अगर बच्चा लगातार दूध का सेवन करेगा, तो इससे बच्चे की इम्यूनिटी कम हो जाएगी।

वहीं अब बात आती है कि बच्चे को किन चीजों का सेवन करवाना चाहिए, जिससे उसकी दूध की कमी को पूरा किया जा सके। तो इसके लिए आप बच्चे को उन चीजों का सेवन करवाएं जिसमें कैल्शियम की मात्रा अधिक होती है। इसके अलावा डॉक्टर भी आपको कुछ ऐसी दवाइयों की सलाह देंगे जिससे बच्चे में कैल्शियम की कमी न हो।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Shilki
App download animated image Get the free App now