Create

बढ़ा हुआ कोलेस्ट्रोल हो सकता है पैरों में सूजन का कारण, जाने अन्य कारण और उपचार - Badha Hua Cholesterol Ho Sakta Hai Pairon Mein Sujan Ka Karan, Jaane Anay Karan Aur Upchaar

बढ़ा हुआ कोलेस्ट्रोल हो सकता है पैरों में सूजन का कारण, जाने अन्य कारण और उपचार (फोटो - sportskeedaहिन्दी)
बढ़ा हुआ कोलेस्ट्रोल हो सकता है पैरों में सूजन का कारण, जाने अन्य कारण और उपचार (फोटो - sportskeedaहिन्दी)

पैरों को लटका के रखने से भी पैरों में सूजन (Swelling) आती है परन्तु क्या आप जानते है इसके पीछे अन्य गंभीर कारण भी हो सकते हैं? कोलेस्ट्रॉल भी उनमे से एक है। शरीर में कोलेस्ट्रॉल बढ़ने से आपका लिवर सही तरीके से अपना काम नहीं कर पाता है इसके कारण पैरों में सूजन जैसी समस्या दिखाई दे सकती है। कोलेस्ट्रॉल का स्तर बढ़ने से पैरों में दर्द भी महसूस किया जा सकता है। इसके अलावा मधुमेह, किडनी की समस्या, लीवर में खराबी का भी यह संकेत है। आइये इसके अन्य कारण (Cause) और उपचार (Home Remedy) को जानते-समझते हैं।

बढ़ा हुआ कोलेस्ट्रोल हो सकता है पैरों में सूजन का कारण, जाने अन्य कारण और उपचार - Badha Hua Cholesterol Ho Sakta Hai Pairon Mein Sujan Ka Karan, Jaane Anay Karan Aur Upchaar In Hindi

पैरों में सूजन का कारण

अधिक वजन (Over-weight) होना।

कोलेस्ट्रॉल का स्तर (High-cholesterol level) बढ़ने पर।

लिवर इन्फेक्शन (Liver infection) होना।

हृदय संबंधित रोग (heart disease)।

फैटी लिवर (fatty liver) का संकेत।

उच्च रक्तचाप (High-blood pressure) की समस्या होने पर।

महिलाओं में गर्भावस्था (During pregnancy) के समय।

बहुत देर तक पैरों को लटका कर बैठना।

ज्यादा देर तक खड़े रहना, व्यायाम या फिर खेलकूद आदि।

डीप वेन थ्रोम्बोसिस (Deep vein thrombosis (DVT) की समस्या।

रेनल फेल्योर (Renal failure) के कारण।

मासिक धर्म (Menstrual cycle) के एक सप्ताह पहले भी पैर में सूजन की समस्या देखी जाती हैं।

पैरों में सूजन के लिए घरेलू उपचार :-

1. इन चीजों को भी डाइट में करें शामिल - ऑलिव ऑयल, नट्स, एवोकैडो और ग्रीन-टी भी लिवर में फैट और सूजन को घटाता है।

2. नींबू भी आपके के लिए कारगर साबित हो सकता है। इसके लिए आप एक चम्मच नींबू का रस, आधा चम्मच दालचीनी चूर्ण, एक चम्मच जैतून का तेल और एक चम्मच दूध,सभी सामग्रियों को मिला लें। इस मिश्रण को कुछ घंटों के लिए सूजन वाली जगह पर लगाएं। ख्याल रखें रात में सोने से पहले यह उपाय करें।

3. एंटी-इंफ्लामेट्री गुणों से भरपूर बेकिंग सोडा भी फायदेमंद हो सकता है। इसके लिए आप दो चम्‍मच चावल को पानी में उबालें। अब इस पानी में दो चम्‍मच बेकिंग सोडा डालकर पेस्‍ट बना लें और 15 मिनट के लिए पैरों पर लगाएं। चावल के पानी के साथ मिलकर ये पैरों में जमा अतिरिक्‍त पानी को सोख लेता है और इससे पैरों में ब्‍लड सर्कुलेशन भी ठीक होता है

4. सेंधा नमक में हाइड्रेटिड मैग्‍नीशियम सल्‍फेइ के क्रिस्‍टल होते हैं, जो मांसपेशियों में दर्द को ठीक कर तुरंत आराम दिलाते हैं। आधा कप सेंधा नमक को गर्म पानी से भरे एक टब या बाल्‍टी में डालें। अब 10 से 15 मिनट के लिए अपने पैरों को इस पानी में डुबोकर रखें. आप इस उपाय को रात को सोने से पहले भी कर सकते हैं।

5. माना जाता है कि प्रोटीन लिवर फैट को 20 फीसदी तक कम करता है। इसलिए, प्रोटीन से भरपूर खाद्य पदार्थों को अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं। पनीर, दलिया, लो-फैट मिल्क कुछ ऐसे फूड्स हैं जिनमें भरपूर मात्रा में प्रोटीन पाया जाता है।

6. हल्दी में करक्‍यूमिन नाम का तत्‍व होता है जो कि नॉन-एल्‍कोहोलिक फैटी लीवर डिजीज़ की स्थिति में लीवर सेल्स को सुरक्षित रख सकता है। एक ग्लास पानी लें और उसे उबालने के लिए रख दें। अब इसमें एक चुटकी हल्दी डालें, साथ ही नींबू का रस मिलाएं, मिक्‍स कर के रोज सुबह इस गुनगुने पानी के साथ लें।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Vineeta Kumar
Be the first one to comment