Create

ईसबगोल की भूसी के 7 फायदे : Isabgol Ki Bhusi Ke 7 Fayde

ईसबगोल की भूसी के फायदे (source - google images)
ईसबगोल की भूसी के फायदे (source - google images)

क्या आपने ईसबगोल (Psyllium husk) के बारे में सुना है? यह कब्ज के इलाज में मदद करने के लिए बहुत सारे फाइबर से भरा एक साधारण भोजन है। Psyllium Husk (ईसबगोल) मूल रूप से एक रेशेदार अन्न है। वे सभी लोग जो अपने दैनिक आहार में पर्याप्त फाइबर का सेवन नहीं करते हैं, यह एक वरदान के रूप में कार्य करता है। इसलिए, यह कब्ज को दूर करने के लिए लोकप्रिय रूप से उपयोग किया जाता है। हालांकि, इसमें और भी बहुत फायदे छुपे है। Psyllium पानी में आसानी से घुलनशील है। यह पानी को इस हद तक सोख लेता है कि यह गाढ़ा जेल बन जाता है।

ईसबगोल आंतों के प्राकृतिक क्लीन्ज़र (natural cleanser) के रूप में कार्य करता है। सेवन करने पर यह कोलन (colon) में जमा हो जाता है। मानव शरीर की आंतों में प्रवेश करते समय, यह अपने साथ उन सभी पेट में जमी गंदगी को अपने साथ ले जाता है जो एक समय में जमा हो गए थे। इससे पाचन तंत्र अच्छा काम करता रहता है।

ईसबगोल की भूसी के 7 फायदे : Isabgol Ki Bhusi Ke 7 Fayde In Hindi

1. वजन घटने के लिए (helps to lose weight)

ईसबगोल एक बहुत ख़ास जड़ी-बूटी है जो आपको वजन घटाने में मदद कर सकती है। इसको पानी में मिलाने पर यह 10 से 20 गुना अपने आकार में बढ़ जाता है। यह फाइबर में उच्च है, इसका सेवन आपको लम्बे समय तक भूख नहीं लगने देता है।

2. हृदय का ख्याल रखता है (keeps heart healthy)

ईसबगोल में मौजूद फाइबर आपकी मदद करते है कोलेस्ट्रॉल लेवल्स को कम करने में, जो आपके हृदय स्वस्थ के लिए लाभदायक है। यह हाई फाइबर (high fiber) और फैट्स में कम (low in fats) होता है। हृदय रोगी को डॉक्टर भी ईसबगोल का सुझाव देते है।

3. एसिडिटी में मदद करता है (helps in acidity)

आजकल के दिनचर्य के हिसाब से सभी के जीवन में एसिडिटी की दिक्कत है। ईसबगोल एक नेचुरल उपचार है, इसके सेवन से पेट में एक लेयर बन जाती है जो एसिडिटी की समस्या को कम करता है।

4. बवासीर में मदद करता है (treats piles)

ईसबगोल के फाइबर्स घुलनशील स्वाभाव के होते है, यह सबसे अच्छा और सुरक्षित उपाय है हर उस पीड़ित के लिए है जो पाइल्स के दर्द से पीड़ित है।

5. दस्त या डायरिया (cures diarrhea)

क्या आप सोच सकते है एक ऐसे उपाय के बारे में जो कॉन्स्टिपेशन और दस्त दोनों को ही खत्म कर सके? यह मुमकिन है ईसबगोल से। ईसबगोल को दही के साथ सेवन करने से पेट की परेशानी से छुटकारा मिल सकता है, दही में प्रोबिओटिक्स (probiotics) की सही मात्रा होती है जो पेट की समस्याओं से आराम दिलाने में मदद करती है।

6. ईसबगोल ब्लड शुगर को कन्ट्रोल करता है (controls blood sugar)

मधुमेह (diabetes) में ईसबगोल की भूसी बहुत उपयोगी है। डायबिटीज में रोगी को इन्सुलिन की दिक्कत का सामना पड़ता है जिसमे ब्लड ग्लूकोस लेवल को कन्ट्रोल करना मुश्किल होता है। ईसबगोल शुगर-फ्री (sugar free) होता है।

7. आंत की बीमारी (irritable bowel syndrome)

यह एक बीमारी है जो ज़्यादातर बड़ी आंत, पेट के दर्द, ऐंठन, दस्त, सूजन, गैस, आदि पर प्रभाव डालती है। ईसबगोल के सेवन से इन सभी समस्याओं से छुटकारा मिलेगा।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Vineeta Kumar
Be the first one to comment