Create

कम उम्र में सफेद बालों के कारण : Kam Umar Me Safed Baal Hone Ke Karan

कम उम्र में सफेद बालों के कारण और बचाव (फोटो - sportskeeda hindi)
कम उम्र में सफेद बालों के कारण और बचाव (फोटो - sportskeeda hindi)

आज के समय में छोटी उम्र में बाल सफेद होने के कारण हर कोई परेशान रहता है। हर कोई चाहता है कि उसके बाल काले और स्वस्थ रहे। सफेद होते बालों के पीछे सबसे बड़ा कारण होता है मेलेनिन। हमारे पास लाखों बालों के रोम होते हैं जिनमें मेलेनिन नामक पिग्नेंट होता है। जैसे-जैसे हमारी उम्र अपने आप बढ़ती है, ये बालों के रोम स्वाभाविक रूप से मेलेनिन नामक पिग्मेंट को खोने लगते हैं। इससे हमारे बाल सफेद होने लगते हैं। पर कई बार छोटी उम्र में ही कुछ कारणों से आपके बाल सफेद होने लगते हैं। जानते हैं इन्हीं कारणों के बारे में।

समय से पहले सफेद बाल होने के कारण - Causes Of Gray Hair At Early Age In Hindi

शरीर में पोषक तत्वों की कमी और पुरानी सूजन की वजह से - जब कोई व्यक्ति लगातार जंक फूड, चीनी, मैदा और रसायनों से भरे अल्ट्रा-प्रोसेस्ड खाद्य पदार्थों का सेवन करता रहता है, तो ये उम्र बढ़ने की प्रक्रिया को तेज कर देते हैं। फिर ये शरीर पर भी अत्यधिक दबाव डालते हैं और सूजन की प्रक्रिया को शुरू करते हैं। ये सूजन लाखों बालों के रोम को प्रभावित करती है और बाल सफेद होने लगते हैं।

ज्यादा तनाव लेने से - मेलानोसाइट्स पिग्मेंट प्रड्यूस करने वाली कोशिकाएं हैं जो आपके बालों का रंग निर्धारित करती हैं। नए मेलानोसाइट्स मेलानोसाइट स्टेम सेल से बनते हैं जो बालों की जड़ों में बालों के रोम में रहते हैं। जब व्यक्ति की उम्र बढ़ती है, तो ये स्टेम सेल धीरे-धीरे गायब हो जाते हैं। लेकिन जब व्यक्ति लंबे समय तक तनाव में रहता है, तो आप हार्मोन नॉरपेनेफ्रिन छोड़ते हैं जो मेलानोसाइट कोशिकाओं को नुकसान पहुंचाता है। इससे आपके बाल तेजी से सफेद हो जाते हैं।

कब्ज की समस्या होन पर या एनीमिया में - कब्ज की समस्या होने पर लोगों के बाल तेजी से सफेद होने लगते हैं। दरअसल, ऐसा इसलिए होता है, क्योंकि कब्ज की समस्या ब्लड सर्कुलेशन को प्रभावित करने लगती है जिससे बाल तेजी से सफेद होने लगते हैं। इसके अलावा शरीर में आयरन की कमी होने पर भी शरीर में हीमोग्लोबिन की कमी हो जाती है। जिसकी वजह से भी आपके बाल तेजी से सफेद होने लगते हैं।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Naina Chauhan
Be the first one to comment