दूध के साथ खसखस और मखाना खाने के फायदे

दूध के साथ खसखस और मखाना खाने के फायदे(sportskeeda Hindi)
दूध के साथ खसखस और मखाना खाने के फायदे(sportskeeda Hindi)

एक अच्छी सेहत हर व्यक्ति की चाहत होती है। इसके लिए कुछ ऐसी चीजें हैं जिसके सेवन से बहुत लाभ मिलता है। खसखस और मखाना दोनों ही पोषक तत्व से भरपूर होते हैं। खसखस और मखाने की तासीर बेहद ठंडी होती है, इसलिए गर्मियों में इनका सेवन अधिक मात्रा में किया जाता है।

मखाने के पोषक तत्व -

मखाने में प्रोटीन, कैल्शियम, कार्बोहाइड्रेट, हेल्दी फैट, फॉस्फोरस और आयरन भरपूर होता है। इसके अलावा मखाना सोडियम, विटामिन वी का भी अच्छा सोर्स है।

खसखस के पोषक तत्व -

वही खसखस में भी अधिक मात्रा में फाइबर, कार्ब्स, प्रोटीन, मैंगनीज और कैल्शियम पाया जाता है। अगर आप खसखस और मखाना दोनों को दूध के साथ मिलाकर खाते हैं, तो इससे सेहत को कई फायदे मिलते हैं।

youtube-cover

दूध के साथ खसखस और मखाना खाने के फायदे : khas and makhana with milk benefits in hindi

हड्डियां मजबूत बनती हैं -

दूध, खसखस और मखाना तीनों में कैल्शियम काफी अधिक मात्रा में होता है। हड्डियों की मजबूती के लिए भी शरीर में कैल्शियम का पर्याप्त होना जरूरी होता है। अपनी हड्डियों को स्वस्थ रखने के लिए रोजाना एक गिलास दूध में खसखस और मखाना (poppy seeds and makhana milk) डालकर जरूर पिएं।

वजन बढ़ाने के लिए -

खसखस, मखाना और दूध में प्रोटीन उच्च होता है। प्रोटीन मांसपेशियों का निर्माण करने में मदद करता है। अगर आप दुबले-पतले शरीर से परेशान हैं, वजन बढ़ाना चाहते हैं तो अपनी डाइट में खसखस और मखाने को शामिल कर सकते हैं।

नींद न आने की समस्या दूर होती है -

आजकल तनाव, अवसाद की वजह से अधिकतर लोग अनिद्रा की समस्या का सामना कर रहे हैं। ऐसे में नींद के लिए मखाना और खसखस फायदेमंद होते हैं।

कब्ज से राहत मिलेगी -

कब्ज आजकल की सामान्य समस्या हो गई है, अधिकतर लोग इससे परेशान हैं। इसके लिए अकसर लोग तरह-तरह के चूर्ण खाते हैं। जबकि खसखस और मखाना कब्ज का बेहतरीन घरेलू उपाय हो सकता है।

पेट की जलन शांत होगी -

लोगों को पेट की जलन को दूर करने के लिए खसखस और मखाना दूध में डालकर पीने से पेट की जलन को शांत करने में मदद मिलती है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Naina Chauhan