खूबकला के फायदे और नुकसान, जानिए सेवन का सही तरीका 

खूबकला के फायदे और नुकसान, जानिये सेवन का सही तरीका
खूबकला के फायदे और नुकसान, जानिये सेवन का सही तरीका

आयुर्वेद में बहुत तरह की जड़ी बूटियों का उपयोग किया जाता है। इसमें से बहुत सी ऐसी जड़ी बूटी भी हैं जिनका नाम शायद ही कभी सुना हो। उसी जड़ी बूटी में से एक है खूबकला (Khubkala) जैसा इसका नाम है, वैसा ही इसका काम भी है। इस खूबकला में इतनी आयुर्वेदिक खूबियां हैं कि इससे बहुत से उपचार किए जा सकते हैं। खूबकला के बीजों का उपयोग दमा, टाइफाइड, बवासीर, खांसी, आदी उपयोग में लाया जाता है। दिखने में इसके बीज बिल्कुल सरसों की तरह होते हैं और स्वाद में ये थोड़ा तीखा और तासीर इसकी गर्म होती है। खूबकला को लोग घरेलू उपयोग में भी करते हैं। लेकिन इसके सेवन का सही तरीका क्या है और इसके सेहत के लिए क्या फायदे हो सकते हैं और क्या नुकसान इस लेख में हम आपको बताएंगे।

खूबकला के फायदे और नुकसान, जानिए सेवन का सही तरीका - Khubkala Ke Fayde Aur Nuksan, Janiye Sevan Ka Sahi Tarika In Hindi

खूबकला के फायदे Khubkala Ke Fayde

खूबकला से बढ़ाए भूख (Increase appetite with plenty) - कई लोगों को भूख न लगने की समस्या होती है। जिससे सेहत पर धीरे धीरे असर पड़ने लगता है। अगर आप भूख बढ़ाने के लिए खूबकला का इस्तेमाल करते हैं, तो कुछ ही दिनों में आपकी भूख बढ़ जाएगी।

कमजोरी को करेगा दूर (Will remove weakness) - खूबकला में ऐसे पोषक तत्व मौजूद होते हैं, जिससे कमजोरी को दूर किया जा सकता है। इसका नियमित सेवन करके आप खुद की इम्यूनिटी बढ़ा सकते हैं। इसको दूध के साथ मिलाकर सेवन किया जा सकता है।

अस्थमा और खांसी में करें इस्तेमाल (Use in asthma and cough) - अगर किसी को अस्थमा और खांसी की समस्या है, तो ऐसे में खूबकला के सेवन से इसे ठीक किया जा सकता है। खूबकला के सेवन से जमा हुआ कफ निकालने में आसानी होती है। इसको लेने के लिए आप गर्म पानी में खूबकला और मुनक्का को साथ में पकाएं फिर इसका सेवन करें। इससे खांसी और दमा जैसी समस्या भी ठीक की जा सकती है।

बवासीर में लाभकारी (Beneficial in piles) - बवासीर आज के समय में बहुत आम बीमारी बनती जा रही है। बवासीर के चलते गूदे में बहुत तकलीफ और खून का निकलना भी होता है। इस बीमारी को जड़ से खत्म करने के लिए खूबकला का पाउडर बनाएं और एक चम्मच नियमित तौर पर इसका दूध या पानी के साथ सेवन करने से बवासीर में बहुत जल्दी आराम मिलेगा।

टाइफाइड में है लाभदायक ( Beneficial in typhoid) - अगर टाइफाइड में खूबकला का इस्तेमाल किया जाए, तो मरीज को बहुत जल्दी आराम मिल सकता है। इसे आप पानी और दूध में पकाकर ले सकते हैं या मुनक्का और खूबकला को दूध में पकाकर भी इसका सेवन किया जा सकता है।

खूबकला के नुकसान Khubkala Ke Nuksan

अभी हमने ऊपर जाना खूबकला के फायदों के बारे में। लेकिन अगर किसी चीज के फायदे होते हैं, तो कही न कहीं उसके कुछ नुकसान भी होते हैं। उसी तरह खूबकला के भी कुछ नुकसान हो सकते हैं आइए जानते हैं।

खूबकला के वैसे तो ज्यादा नुकसान नहीं हैं। लेकिन गर्भवती महिलाओं को इसका ज्यादा सेवन नहीं करना चाहिए। दरअसल खूबकला की तासीर गर्म होती है जिसके चलते मिसकैरेज होने का खतरा बहुत ज्यादा होता है।

खूबकला जरूरी नहीं सभी को लाभ पहुंचाए। कई बार इससे एलर्जी होने का खतरा भी हो सकता है। इसलिए किसी डॉक्टर की सलाह से ही इसका सेवन करें।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Shilki