Create

पीठ के निचले हिस्से के दर्द का इलाज कैसे करें - Peeth ke Nichle Hisse ke Dard ka Ilaj kaise kare

पीठ के निचले हिस्से के दर्द का इलाज कैसे करें
पीठ के निचले हिस्से के दर्द का इलाज कैसे करें

Know Treatment of lower Back Pain in hindi: पीठ के निचले हिस्से में दर्द की समस्या किसी को भी किसी भी उम्र में हो सकती है। आजकल हम अपने खानपान और व्यायाम पर कम ध्यान देते हैं, जिसके चलते कई सारी समस्याओं का सामना करना पड़ता है। इसमें से एक पीठ के निचले हिस्से में भी दर्द की समस्या है। दफ्तरों में घंटों बैठ कर एक ही जगह काम करने से भी ये समस्या हो जाती है। जब हम घंटों एक ही जगह बैठे रहते हैं तो रीढ़ को सहारा देने वाली मांसपेशियों पर दबाव बड़ा है और इससे अकड़न आ जाती है या फिर दर्द शुरू हो जाता है। व्यायाम करने से या फिर कई सारी घरेलू उपचारों के जरिए इसे दूर कर सकते हैं।

पीठ के निचले हिस्से के दर्द का इलाज कैसे करें

अदरक दूर करेगा पीठ के निचले हिस्से का दर्द (Ginger will relieve lower back pain)

अदरक का सेवन हम चाय में डालकर खुब करते हैं। अदरक एक दर्द निवारक जड़ी-बूटी के रूप में भी काम करता है। पीठ के निचले हिस्से यानी कमर दर्द की समस्या में थोड़े से ताजे अदरक को डेढ़ कप पानी में उबाल लें और ठंडा होने के बाद इसमें शहद मिलाकर पी जाए। नियमित रूप से ऐसा करने से कुछ ही दिनों में दर्द की समस्या दूर हो सकती है।

तुलसी से दूर होगी कमर दर्द की समस्या (Tulsi will remove the problem of back pain)

आयुर्वेद में तुलसी को एक जड़ी-बूटी बताया गया है जो कई सारी समस्याओं के इलाज में इस्तेमाल की जाती है। पीठ के निचले हिस्से में दर्द की समस्या में एक कप पानी में तुलसी की 8-10 पत्तियां डालकर उबाल लें और आधा हो जाने पर इसे ठंडा होने के लिए छोड़ दें। इसके बाद एक चुटकी नमक मिलाकर नियमित रूप से सेवन करने से दर्द दूर हो सकता है।

कमर दर्द की समस्या दूर करे खसखस (Poppy seeds remove the problem of back pain)

खसखस को पीठ दर्द की समस्या में रामबाण औषधि माना गया है। इस समस्या से निजात पाने के लिए एक कप खसखस के बीज में एक कप मिश्री मिलाकर का पाउडर नियमित रूप से सुबह-शाम दो चम्मच एक गिलास दूध में मिलाकर सेवन करें। इससे काफी राहत मिल सकता है।

कमर दर्द में ऐसे इस्तेमाल करें लहसुन (Use garlic in back pain)

सरसों के तेल में लहसुन की 3-4 कलियों को मिलाकर उबाल लें। जब लहसुन की कलियां काली हो जाए तो इसे गैस से उतार लें। ठंडा होने के बाद दर्द वाली जगह पर कुछ देर तक अच्छे से मसाज करें। बहुत जल्द दर्द की समस्या से राहत मिल जाएगा।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Ritu Raj
Be the first one to comment