Create

लिवर खराब होने के लक्षण और उपाय : Liver Kharab Hone Ke Lakshan Aur Upay

लिवर खराब होने के लक्षण और उपाय (फोटो - sportskeeda hindi)
लिवर खराब होने के लक्षण और उपाय (फोटो - sportskeeda hindi)

शरीर का हर हिस्सा महत्‍वपूर्ण होता है, जिसमें लिवर (Liver) भी शामिल है। अगर लिवर में किसी भी तरह का इंफेक्‍शन या खराबी आ जाती है तो, शरीर में कई प्रकार के लक्षण दिखाई देने शुरू हो जाते हैं। लिवर की बीमारी ज्‍यादातर उन्‍हीं को होती है जो मोटे होते हैं या फिर शराब का सेवन अधिक करते हैं। शरीर में लिवर का प्रमुख काम खाने और पीने को एनर्जी और न्यूट्रिएंट्स में तब्दील करना है। इसके अलावा ये खून से हानिकारक और विषैले पदार्थों को भी फिल्टर कर अलग करता है। जानते हैं लिवर खराब होने पर क्या लक्षण दिखते हैं और क्या उपाय अपना सकते हैं।

लिवर खराब होने के लक्षण - Liver Kharab Hone Ke Lakshan In Hindi

1. आंखों में पीलापन आना - जब भी कभी लिवर खराब होता है तो सबसे पहले आंखों (eye), त्‍वचा (skin) और नाखूनों (nail) का रंग पीला पड़ने लगता है। यही नहीं इसके साथ पेशाब का रंग भी पीला हो जाता है। यह बाइल जूस के अत्‍यधिक प्रोडक्‍शन की वजह से होता है।

2. मितली आना - यदि किसी को लिवर में तकलीफ होती है तो इंसान को बार बार मितली आने जैसा लगता है। कई बार में उल्‍टी के साथ खून के थक्‍के भी दिखाई देते हैं।

3. पेट के निचले हिस्‍से में सूजन आना - अगर किसी के पेट के निचले हिस्‍से में सूजन आती हुई दिखाई दे रही है तो यह लिवर में खराबी होने का संकेत हो सकता है। यह सूजन लिवर के लगातार काम बढ़ जाने की वजह से होता है। ऐसे में कभी इस कंडीशन को अनदेखा ना करें और तुरंत डॉक्‍टर को दिखाएं।

4. भूख न लगना - जब भी लिवर में कोई समस्या होती है तो सबसे पहले रोगी को भूख नहीं लगती और उसके पेट में गैस और एसिडिटी की समस्‍या बनने लगती है। यही नहीं इससे उसके सीने में जलन और भारीपन की भी शिकायत बढ़ जाती है।

5. बुखार आना - लिवर की खराबी की वजह से रोगी को बुखार (fever) आता रहता है और उसके मुंह का स्‍वाद भी बिगड़ जाता है। यही नहीं उसके मुंह से बदबू भी आने लगती है।

लिवर के उपाय – Liver Ke Upay In Hindi

1 . पानी ज्यादा पियें , दिन भर में 3 से 4 लीटर पानी पीने की आदत बनाकर रखें।

2 . ज्यादा मिर्च मसालेदार और बाहर का फ़ास्ट फ़ूड खाने से परहेज करें।

3 . योग एक्सरसाइज से दिन की शुरुआत करनी चाहिए।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Naina Chauhan
Be the first one to comment