Create

गिलोय आंवला जूस के फायदे अनेक- Giloy Amla Juice Ke Fayde Anek

गिलोय आंवला जूस के अनेकों फायदे
गिलोय आंवला जूस के अनेकों फायदे

आयुर्वेद के अनुसार अगर हम चाहें तो एक लंबी उम्र के साथ एक निरोग स्वस्थ जिंदगी भी जी सकते हैं। आयुर्वेद सबसे पहले योग करने की सलाह देता है जिससे हम शारीरिक रूप से स्वस्थ रहते हैं और कई रोगों से बचे रहते हैं। इसके साथ ही अपने भोजन में कई ऐसी चीजों को शामिल करने के लिए भी कहता है जिससे हम जीवन भर कई गंभीर बीमारियों से बचे रह सकते हैं। गिलोय और आंवला (Giloy Amla Juice Benefits) भी इनमें से एक है। अगर इनका जूस हम नियमित रूप से सेवन करें तो कई बीमारियों से दूर रहा जा सकता है।

गिलोय आंवला के औषधीय गुण- Medicinal properties of Giloy Amla

आंवला में विटामिन सी, एंटीऑक्सीडेंट, कैल्शियम, आयरन, पोटैशियम, फ्लैवोनोइड्स और ऐन्थो साइनिन जैसे पोषक तत्व पाए जाते हैं। जो हमारे सेहत के लिए काफी फायदेमंद होते हैं। आंवला हमारे इम्यून सिस्टम से लेकर पाचन तंत्र तक को मजबूत करता है। वहीं, गिलोय की बात करें तो इसमें, कॉपर, कैल्शियम, जिंक, मैगनीज, एंटी-पायरेटिक, एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटीऑक्सीडेंट जैसे गुण मौजूद होते हैं। जो कई स्वास्थ्य समस्याओं को ठीक करने में मदद करते हैं। लेकिन इन दोनों का जब साथ में सेवन किया जाए तो हमें दोगुना लाभ मिलता है।

गिलोय आंवला जूस के फायदे Benefits of Giloy Amla Juice in Hindi

-गिलोय आंवला जूस वायरल संक्रमण, मधुमेह, सूजन, इम्यूनोमॉड्यूलेटरी और मनोरोग स्थितियों, ऑस्टियोपोरोसिस, गठिया, रक्त विकार के अलावा कई और समस्याओं में लाभकारी है।

-आंवला और गिलयो विटामिन सी और खनिजों का अच्छा स्रोत है, यह प्रतिरक्षा और चयापचय को बढ़ावा देने में मदद करता है।

-आंवला और गिलोय कई बीमारियों में लाभकारी है, जैसे- एलर्जी, आयरन की कमी, रक्त विकार, मूत्र पथ के संक्रमण, ल्यूकोरिया आदि की समस्या से लाभकारी है।

-गिलोय हमारी इम्यूनिटी बढ़ाने, आंखों की समस्या दूर करने के अलावा कई और रोगों में भी लाभकारी है।

-आंखों के लिए आंवला अमृत समान है, यह आंखों की रोशनी को बढ़ाने में सहायक होता है। इसके लिए नियमित रूप से एक चम्मच आंवला पाउडर को शहद के साथ लेने से लाभ मिलता है और साथ ही मोतियाबिंद की समस्या से छुटकारा मिलता है।

-बुखार से छुटकारा पाने के लिए आंवले के रस में छौंक लगाकर इसका सेवन करना चाहिए, इसके अलावा दांतों में दर्द और कैविटी होने पर आंवले के रस में थोड़ा सा कपूर मिला कर मसूड़ों पर लगाने से आराम मिलता है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Ritu Raj
Be the first one to comment