Create

करेला के औषधीय गुण- karela ke Aaushadhi gun

करेला के औषधीय गुण(फोटो:youtube)
करेला के औषधीय गुण(फोटो:youtube)

करेला अपने कड़वे स्वाद के लिए जाना जाता है। लेकिन ये जितना कड़वा होता है उससे कहीं ज्यादा औषधीय गुणों से भरपूर भी होता है। ये पेट से लेकर स्किन और शुगर के रोग तक में फायदेमंद है। करेला में फास्फोरस पर्याप्त मात्रा में पाया जाता है जो कफ, कब्ज और पाचन संबंधी समस्याओं को दूर करने में मदद करता है। करेले में विटामिन A,B और C प्रचुर मात्रा में पाये जाते हैं। इसके अलावा कैरोटीन, बीटा कैरोटीन, लूटीन, आयरन, जिंक, पोटेशियम, मैग्नीशियम और मैंगनीज जैसे फ्लैवोनॉइड भी पाए जाते हैं जो हमारी सेहत के लिए काफी जरूरी होते हैं।

करेला के औषधीय गुण- karela ke Aaushadhi gun in Hindi

मधुमेह (Benefits of Karela in Diabetes)

खराब लाइफस्टाइल और खानपान के चलते इन दिनों मधुमेह (Diabetes) की समस्या तेजी से बढ़ती जा रही है। इसस समस्या में करेला रामबाण औषधि के रूप में काम करता है। करेले के टुकड़ों को सुखाकर पीसकर पाउडर तैयार कर लें और रोजाना सुबह खाली पेट पानी के साथ एक चम्मच पाउडर मिलाकर सेवन करने से काफी लाभ मिलता है।

-एक चौथाई कप करेले के रस में समान मात्रा में गाजर का रस मिलाकर पीने से डायबिटीज में काफी लाभ मिलता है।

-10 ग्राम करेले के रस में शहद मिलाकर रोजाना सेवन करने से शुगर कंट्रोल में रहता है।

-10 ग्राम करेले के रस में 6 ग्राम तुलसी के पत्तों का रस मिलाकर रोज सुबह खाली पेट पीना लाभकारी है।

त्वचा रोग (Bitter gourd is beneficial in skin diseases)

करेला में मौजूद बिटर्स और एल्केलाइड तत्व रक्त शोधक का काम करते हैं। सोते समय करेले का लेप लगाने से फोड़े-फुंसी और त्वचा संबंधी रोगों में फायदा मिलता है। दाद, खाज, खुजली, सिरोसिस जैसे त्वचा रोगों में करेले के रस में नींबू का रस मिलाकर पानी के साथ पीने से फायदा मिलता है।

रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाए (Karela increase immunity)

करेले में मौजूद खनिज और विटामिन शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाते हैं जिससे कैंसर जैसी बीमारी का मुकाबला भी किया जा सकता है।

जोड़ों का दर्द (Karela in joint pain)

करेला जोड़ों के दर्द में भी काफी लाभकारी है। जोड़ों के दर्द के साथ ही गठिया की समस्या में करेले के पत्तों के रस से मालिश करने से काफी आराम मिलता है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Ritu Raj
Be the first one to comment