Create
Notifications

पीठ के बीच में है दर्द तो ऐसे सोएं - Peeth ke Bich me hai dard to aise soye

पीठ के बीच में है दर्द तो ऐसे सोएं
पीठ के बीच में है दर्द तो ऐसे सोएं
Ritu Raj

Middle Back Pain Sleeping position in hindi: पीठ दर्द बेहद ही आम समस्या है। ये किसी को भी हो सकती है। हालांकि, इसमें लोगों की पीठ के निचले हिस्से या गर्दन में दर्द होता है लेकिन, आज कल पीठ के बीच हिस्से में भी दर्द की समस्या काफी तेजी से देखने को मिल रही है। दरअसल, पीठ के बीच का भाग, गर्दन और पीठ के निचले हिस्से के बीच का एक महत्वपूर्ण हिस्सा होता है। जब इसमें दर्द होता है तो इस 'मिड बैक पेन' कहा जाता है। इस समस्या से अपने गद्दे और सोने की पोजिशन को चेंज कर राहत पा सकते हैं।

पीठ के बीच में है दर्द तो ऐसे सोएं

स्लीपिंग पोजीशन-1 (Pith ke Bich me hai dard to aise Soye)

पीठ के बीच में दर्द होने पर अपने स्लीपिंग पोजीशन को बदल ले। इससे आपको सोने में परेशानी नहीं होगी। इसके लिए आप पेट के बल लेटकर एक तकिया को बांहों में भरकर सो सकते हैं। इस पोजीशन में सोने से पीठ में होने वाला दर्द महसूस नहीं होता है। इसके लिए पेट के बल लेट जाए और तकिया को अपने पेट के निचले हिस्से में दबा लें। या फिर सीने-सिर के आसपास भी होल्ड कर सकते हैं।

स्लीपिंग पोजीशन-2 (Middle Back Pain se kaise paye Chutkara)

पीठ के बीच में दर्द की समस्या में राहत पाने के लिए एक्सरसाइज करना लाभ पहुंचा सकता है। इसके साथ ही इस दौरान रात को सोते समय होने वाले दर्द से बचने के लिए कंधे के बल सोने से आराम मिल सकता है। इससे आपके पीठ और कमर की नसें खींची हुई रहती हैं जिससे दर्द नहीं होता है। इसके लिए सीधा लेट जाए और फिर किसी भी एक साइड में मुड़ जाए। अपने दोनों घुटनों के बीच में एक लंबी तकिया फंसा ले। ऐसा करने से कमर दर्द की समस्या से भी जल्द राहत मिल सकता है।

भरपूर नींद लें और गद्दे का रखें ध्यान (Get enough sleep and mattress)

शारीरिक स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिए रोजाना 7-9 घंटे नींद जरूरी है। इसके साथ ही आप जिस गद्दे पर सो रहे हैं उसका भी विशेष ध्यान देना जरूरी है। ऐसे गद्दे से बचे जिस पर आप सोते ही अंदर घुस जाए। इसके चलते पीठ दर्द की समस्या हो सकती है। ऐसे गद्दे पर सोए जो बहुत मुलायम ना हो और ना ही ज्यादा कठोर। ध्यान रहे की जब आप सोए तो शरीर और गद्दे के बीच में खाली स्पेस नहीं होनी चाहिए।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।


Edited by Ritu Raj

Comments

Fetching more content...