माइग्रेन दर्द का घरेलू उपचार-Migraine Dard Ka Gharelu Upchar

माइग्रेन दर्द का घरेलू उपचार (फोटो-Sportskeeda hindi)
माइग्रेन दर्द का घरेलू उपचार (फोटो-Sportskeeda hindi)

आजकल के अनियमित लाइफस्टाइल की वजह से ज्यादातर लोगों को माइग्रेन (Migraine) की शिकायत होती जा रही है। यह बीमारी जरूरी नहीं है कि किसी एक उम्र में हो, माइग्रेन बच्चों से लेकर बड़ों तक किसी को भी हो सकती है। लेकिन माइग्रेन का दर्द पुरूषों की अपेक्षा ज्यादातर महिलाओं में देखने को मिलता है। माइग्रेन में सिर के आधे हिस्से में दर्द होता है। क्योंकि दिमाग में रक्त का संचार बढ़ जाता है, जिसके चलते लोगों को तेज सिर दर्द होने लगता है। माइग्रेन का दर्द 2 घंटे से लेकर 72 घंटो तक लगातार हो सकता है। कभी-कभी तो इस दर्द को ठीक होने में एक हफ्ते या महीने भी लग सकते हैं।

माइग्रेन के लक्षण

माइग्रेन के दर्द का सबसे सामान्य लक्षण यह है कि इसमें लोगों को बहुत तेज सिर दर्द होता है। साथ ही उनके आंखो से पानी निकलता है और उनकी नाक भी जाम हो जाती है। इस दर्द की वजह से लोगों को नींद भी नहीं आती है। साथ ही माइग्रेन के दर्द में लोगों को कभी-कभी उल्टी भी हो जाती है, या उल्टी जैसा महसूस होता है।

माइग्रेन दर्द का घरेलू उपचार (Migraine Dard Ka Gharelu Upchar In Hindi)

आइस पैक से मिलेगी राहत

अगर किसी को माइग्रेन है तो उसे सिर पर आइस का पैक (Ice Pack) रखना चाहिए। आइस पैक दिमाग में रक्त के प्रभाव को नियंत्रित करने में मदद करता है। जिससे दर्द में काफी आराम मिल सकता है।

तुलसी का तेल है फायदेमंद

तुलसी (Tulsi) का तेल भी माइग्रेन के दर्द में काफी फायदेमंद माना जाता है। तुलसी का तेल मांसपेशियों को आराम देता है। जिसकी वजह से दर्द में काफी राहत मिलती है।

तेज दर्द में करें कॉफी का सेवन

अगर किसी को माइग्रेन का तेज दर्द हो रहा है, तो उसे तुरंत कॉफी (Coffee) का सेवन करना चाहिए। इससे दर्द में जल्द ही आराम मिल सकता है।

सिर की करें मालिश

माइग्रेन का दर्द होने पर किसी भी तेल से सिर की मालिश करनी चाहिए। सिर की मालिश करने से आपको काफी राहत मिलेगी।

योगा जरूर करें

अगर किसी को माइग्रेन की शिकायत है, तो उसे नियमित रूप से योगा (Yoga) करना चाहिए। अनुलोम-विलोम माइग्रेन में काफी फायदेमंद योग माना जाता है। योगा करने से व्यक्ति तनाव मुक्त भी रहता है।

पौष्टिक आहार लें

माइग्रेन से छुटकारा पाने के लिए पौष्टिक आहार का सेवन करना चाहिए। साथ ही कम से कम 8-9 घंटे की नींद लेनी चाहिए।

पानी भरपूर मात्रा में पिएं

मौसम चाहे जो भी हो पानी तो भरपूर मात्रा में ही पीना चाहिए। लेकिन अगर किसी को माइग्रेन की शिकायत है, तो उसे एक दिन में कम से कम 9-10 गिलास पानी जरूर पीना चाहिए।

सेब के सिरके का करें सेवन

अगर किसी को माइग्रेन की शिकायत है, तो उसे सेब के सिरके का सेवन करना चाहिए। अगर आप रोजाना नियमित रूप से इसका सेवन करते हैं, तो माइग्रेन के दर्द से काफी राहत मिलेगी।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Rakshita Srivastava