नवरात्रि 2023: नवरात्रि में उपवास करने के लिए 5 स्वास्थ्य टिप्स!

Navratri 2023: 5 Health Tips To Fast In Navratri!
नवरात्रि 2023: नवरात्रि में उपवास करने के लिए 5 स्वास्थ्य टिप्स!

नवरात्रि बड़े उत्साह और भक्ति के साथ मनाया जाता है। इन नौ दिनों के दौरान, कई लोग अपनी आस्था और भक्ति की अभिव्यक्ति के रूप में उपवास करना चुनते हैं। नवरात्रि के दौरान उपवास करना आध्यात्मिक रूप से संतुष्टिदायक अनुभव हो सकता है, लेकिन इसे स्वस्थ और सुरक्षित तरीके से करना आवश्यक है। नवरात्रि के दौरान उपवास में आपकी मदद करने के लिए कुछ स्वास्थ्य टिप्स के बारे में आज हम बतायेंगे।

निम्नलिखित इन 5 बिन्दुओं के माध्यम से जाने:-

1. हाइड्रेटेड रहना:

उपवास से निर्जलीकरण हो सकता है, खासकर यदि आप भोजन और पानी दोनों से परहेज कर रहे हैं। यह सुनिश्चित करने के लिए कि आप नवरात्रि के दौरान हाइड्रेटेड रहें, सूर्योदय और सूर्यास्त से पहले और बाद में जब आपको तरल पदार्थों का सेवन करने की अनुमति हो तो खूब सारा पानी पीने का ध्यान रखें। तरोताजा और पोषित रहने के लिए नारियल पानी, हर्बल चाय और फलों से बने पानी का विकल्प चुनें।

हाइड्रेटेड रहना!
हाइड्रेटेड रहना!

2. संतुलित भोजन की योजना बनाएं:

जब आप उपवास के दौरान खाते हैं, तो सुनिश्चित करें कि आपका भोजन अच्छी तरह से संतुलित हो। पूरे दिन निरंतर ऊर्जा प्रदान करने के लिए जटिल कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन और स्वस्थ वसा का मिश्रण शामिल करें। रक्त शर्करा के स्तर को बनाए रखने और ऊर्जा दुर्घटनाओं को रोकने के लिए साबुत अनाज जैसे कि एक प्रकार का अनाज और फलों का सेवन करें।

3. पोषक तत्वों से भरपूर खाद्य पदार्थ चुनें:

पोषक तत्वों से भरपूर खाद्य पदार्थों को शामिल करके अपने उपवास की अवधि का अधिकतम लाभ उठाएं। फलों, मेवों और बीजों का भरपूर सेवन करें, जो विटामिन और खनिजों से भरपूर होते हैं। आप अपनी कैल्शियम और प्रोटीन आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए डेयरी उत्पादों या उनके पौधे-आधारित विकल्पों को भी शामिल कर सकते हैं।

4. अतिभोग से बचें:

विस्तृत और हाई कैलोरी भोजन के साथ अपना उपवास खोलना आम बात है, लेकिन इससे पाचन संबंधी परेशानी हो सकती है। सूजन और अपच को रोकने के लिए छोटे, बार-बार भोजन करने का विकल्प चुनें। पाचन में सहायता के लिए सलाद और ताजी सब्जियों जैसे फाइबर युक्त खाद्य पदार्थों को भरपूर मात्रा में शामिल करें।

5. अपने शरीर की सुनें:

youtube-cover

नवरात्रि के दौरान उपवास करने से आपके स्वास्थ्य से समझौता नहीं होना चाहिए। यदि आप कमजोरी महसूस करते हैं, चक्कर आते हैं, या किसी प्रतिकूल लक्षण का अनुभव करते हैं, तो अपना उपवास खोलना और यदि आवश्यक हो तो स्वास्थ्य देखभाल पेशेवर से परामर्श करना आवश्यक है। नवरात्रि के दौरान उपवास का प्राथमिक उद्देश्य परमात्मा से जुड़ना है, और इससे आपकी भलाई को नुकसान नहीं पहुंचना चाहिए।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by वैशाली शर्मा
App download animated image Get the free App now