Create

अब नही बहेगी आपके बच्चे की नाक अपनाएं ये घरेलू उपचार !

Now your child
अब नही बहेगी आपके बच्चे की नाक अपनाएं ये घरेलू उपचार !

मौसम बदलते ही सर्दी जुकाम की समस्या शुरू हो जाती है। इसके अलावा कई बार ठंडा गरम खाने के चलते भी सर्दी जुकाम की समस्या हो जाती है और इसमें सबसे ज्यादा परेशानी तब होती है जब लगातार नाक बहती रहती है। बहती नाक एक ऐसी समस्या है, जिसमें नाक से अतिरिक्त तरल पदार्थ निकलने लगता है। यह तरल पदार्थ पतला या गाढ़ा बलगम जैसा हो सकता है। सर्दी जुकाम और बहती नाक से कुछ घरेलू उपचार के जरिए छुटकारा पाया जा सकता है।

नाक से पानी आना कौन सी बीमारी है?

नाक से पानी बहना एक आम तौर पर बेहद प्रचलित लेकिन परेशान करने वाली बीमारी है. ये बीमारी कई कारणों से आपको हो सकती जैसे जब साइनस या नाक के वायुमार्गों में बलगम की मात्रा ज्यादा बढ़ जाती है. दरअसल साइनस, चेहरे की हड्डियों के पीछे होती है. पर ऐसा ज़रूरी नही है की ये बीमारी आपके बच्चे को या आपको हो, ये महज़ मौसम के बदलाव का असर हो सकता है, ज़्यादा समस्या होने पर आप अपने नजदीकी डॉक्टर से संपर्क कर सकतें हैं.

बहती नाक का घरेलू उपचार जानिए!

1. काली मिर्च

youtube-cover

जुकाम की समस्या होने पर नाक भी बहने लगती है। ऐसे में काली मिर्च के चूर्ण को शहद में मिलाकर चाटने से काफी आराम मिलता है। आधा चम्मच काली मिर्च चूर्ण और एक चम्मच मिश्री मिलाकर करीब एक गिलास गर्म दूध के साथ दिन में 2 बार पीने से बहती नाक की समस्या से काफी हद तक छुटकारा मिल जाएगा।

2. हल्दी का दूध

हल्दी का दूध कई बीमारियों के लिए रामबाण इलाज है और सर्दी जुकाम के साथ बहती नाक की समस्या में भी ये काफी मददगार साबित हो सकता है। एक गिलास गर्म दूध में दो चम्मच हल्दी पाउडर मिलाकर पीने से नाक और गले में खराश की समस्या में आराम मिलेगा। साथ ही नाक से बहने वाले पानी की समस्या से भी राहत मिलेगी।

3. तुलसी का काढ़ा

तुलसी को आयुर्वेद में अमृत औषधि के रूप में स्थान दिया गया है। बहती नाक और सर्दी जुकाम से छुटकारा पाने के लिए 5-7 पत्तियों को पीसकर काढ़ा बनाकर पीने से नाक का बहना बंद तो होगा ही साथ ही खांसी और जुकाम में भी काफी राहत मिलेगी। अगर फिर भी नाक का बहना बंद नहीं हो रहा है तो तुलसी की मंजरियों को रुमाल में डालकर पोटली बना लें और उसे सूंघे। इससे काफी फायदा मिलेगा।

4. मेथी और अलसी

नही बहेगी आपके बच्चे की नाक
नही बहेगी आपके बच्चे की नाक

3 से 4 ग्राम मेथी और इतनी ही मात्रा में अलसी को लेकर एक गिलास पानी में कुछ देर तक उबाल लें। जब अच्छी तरह उबल जाए तो उसकी करीब तीन-चार बूंदें नाक के दोनों तरफ डालें। इससे जुकाम के साथ-साथ नाक का बहना भी बंद हो जाएगा।

शोर्ट में आप छोटे बच्चों की बहती नाक ऐसे रोकें और उसे दें कुछ राहत बताये बिन्दुओं की मदद से तुरंत

  • पेट्रोलियम जैली बच्चे की नाक की जलन कम करेगा
  • अदरक और शहद राहत देगा
  • सरसों का तेल हल्का गर्म कर के नाक के पास लगायें और कुछ बुँदे नाक में डालें
  • नारियल तेल और कपूर का प्रयोग करें
  • जायफल का करें इस्तमाल

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by वैशाली शर्मा
Be the first one to comment