पाइल्स की 5 दवा - Piles Ki Dawa

ये है पाइल्स की 5 बेहतरीन दवा , जानिए
ये है पाइल्स की 5 बेहतरीन दवा , जानिए

Piles Medicine in hindi: कई सारी बीमारियां ऐसी होती हैं जो दिखने में हमें छोटी लगती हैं लेकिन, धीरे-धीरे कर ये बड़ी होती जाती हैं और बाद में हमें इस समस्या का जब सामना करना पड़ता है तो पछतावा होता है कि पहले क्यों नहीं ध्यान दिया। पाइल्स की समस्या ऐसी है जिसे लोग कई बार नजरअंदाज कर देते हैं लेकिन, बाद में ये आपको काफी तकलीफ दे सकती है। पाइल्स मलाशय और गुदा हिस्सों को प्रभावित करती है। पाइल्स यानी बवासीर की समस्या आमतौर पर कब्ज के कारण होती है। ये दो प्रकार की होती है एक तो आंतरिक बवासीर, जो मलाशय में विकसित होती है और दूसरी बाहरी बवासीर जो बाहरी गुदा के आसपास त्वचा के नीचे विकसित होते हैं। बवासीर के लक्षण की बात करें तो, मल त्याग के दौरान खून आना, गुदा हिस्से में खुजली, जलन या दर्द होना, बार-बार मल त्याग करने की भावना महसूस होना, गुदा के आसपास गांठ और दर्द होना। इसके दवा की बात करें तो कई बार इसमें सर्जरी करानी पड़ सकती है। लेकिन, कई बार ये दवा के जरिए ही ठीक हो जाता है। लेकिन, इन सबके अलावा आप कुछ घरेलू उपचार के जरिए भी ठीक कर सकते हैं।

पाइल्स की 5 दवा

देसी घी और हल्दी (Desi Ghee and Turmeric is a panacea for piles)

बवासीर की समस्या में देसी घी और हल्दी रामबाण माना गया है। इन दोनों की मदद से पूरी तरह ये समस्या ठीक हो सकती है। इसके लिए थोड़ी सी देसी घी में एक चम्मच हल्दी मिलाकर मिश्रण तैयार कर लें और इसे अपने गुदा के हिस्से पर नियमित रूप से लगाए। इससे कुछ ही दिनों में ये समस्या दूर हो जाएगी।

बकरी का दूध, हल्दी और काला नमक (Treat piles with goat's milk, turmeric and black salt)

बकरी का दूध, हल्दी और काला नमक बवासीर की समस्या में पुराने समय से ही इस्तेमाल होते आ रहा है। इससे राहत पाने के लिए एक कप बकरी के दूध में एक चम्मच हल्दी और आधा चम्मच काला नमक मिलाकर कुछ दिनों तक नियमित रूप से सेवन करने से ये समस्या जल्द ठीक हो जाती है।

पाइल्स से नीजात पाने के लिए पीए मूली का जूस (Drink radish juice to get rid of piles)

बवासीर की समस्या में मूली का जूस काफी लाभ पहुंचा सकता है। इसके लिए 25 से 50 ग्राम मूली के जूस का नियमित रूप से सेवन करने से बवासीर से राहत मिल सकता है। इसके साथ ही आप चाहे तो मूली को ऐसे ही खा सकते हैं।

अरंडी का तेल (Castor oil For get rid of piles)

कैस्टर ऑयल यानी अरंडी का तेल बवासीर को ठीक करने में मदद करेगा। क्योंकि, इसमें एंटीऑक्सीडेंट, एंटी-फंगल, एंटी-बैक्टीरियल और ज्वलनशील जैसे गुण होते हैं जो, पाइल्स के आकार को कम करने और इसमें होने वाले दर्द को कम करने में मदद करते हैं। इसके लिए रात में 3 एमएल कैस्टर ऑयल को दूध में मिलाकर प्रभावित जगह पर लगाने से दर्द में आराम मिल सकता है।

किशमिश का जूस (raisin juice for piles)

नियमित रूप से अगर किशमिश का जूस का सेवन करें तो कुछ ही दिनों में बवासीर की समस्या ठीक हो सकती है। इसके लिए रात को थोड़ी सी किशमिश को एक गिलास पानी में भिगोकर रख दें और सुबह किशमिश को पीसकर इसके जूस का सेवन करने से बवासीर से आराम मिल सकता है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Ritu Raj