Create

रात में चाय पीने के 5 नुकसान

रात में चाय पीने के नुकसान(फोटो-Sportskeeda hindi)
रात में चाय पीने के नुकसान(फोटो-Sportskeeda hindi)
Rakshita Srivastava

चाय (Tea) पीने का शौकीन भला कौन नहीं होता है, कई लोगों के तो दिन की शुरूआत ही चाय के साथ होती है। तो वहीं कई लोग चाय के इतने दिवाने होते हैं कि दिनभर में कई बार चाय पी लेते हैं, लेकिन क्या आप जानते हैं चाय का अधिक मात्रा में सेवन स्वास्थ्य को नुकसान भी पहुंचाता है। जी हां अगर आप रात में भी चाय का सेवन करते हैं, तो इससे आप कई बीमारियों के शिकार हो सकते हैं। रात में चाय पीने से अनिद्रा की शिकायत हो सकती है, क्योंकि चाय में कैफीन की भरपूर मात्रा पाई जाती है। साथ ही रात में चाय का सेवन करने से कई और स्वास्थ्य संबंधी परेशानियां भी हो सकती है, तो आइए जानते हैं रात में चाय पीने के क्या-क्या नुकसान होते हैं।

रात में चाय पीने के 5 नुकसान- Raat Me Chai Pine Ke Nuksan In Hindi

अनिद्रा की हो सकती है समस्या

चाय में कैफीन पाया जाता है। इसलिए अगर आप रात में सोने से पहले चाय का सेवन करते हैं, तो इससे अनिद्रा (insomnia) यानि नींद न आने की समस्या हो सकती है। जिसकी वजह से तनाव, आंखों के नीचे काले घेरे जैसी समस्या भी हो सकती है।

सीने में जलन की हो सकती है समस्या

रात में सोने से पहले चाय का सेवन करने से सीने में जलन (heartburn) की समस्या हो सकती है। क्योंकि चाय पीने से एसिड का उत्पादन बढ़ जाता है, जो सीने में जलन जैसी समस्या को पैदा कर सकता है।

पेट के लिए नुकसानदायक

रात को सोने से पहले चाय पीना पेट के लिए काफी नुकसानदायक साबित होता है। क्योंकि अगर आप रात में चाय पीकर सोते हैं, तो इससे एसिडिटी, कब्ज और अपच जैसी समस्या होती है, साथ ही पाचन तंत्र (Digestion) पर भी बुरा असर पड़ता है।

दांत और मसूड़े होते हैं कमजोर

रात को सोने से पहले चाय पीना ओरल हेल्थ (Oral health) के लिए भी काफी नुकसानदायक साबित होता है। क्योंकि अगर आप रात को सोने से पहले चाय पीते हैं, तो इससे दांत और मसूड़े कमजोर हो जाते हैं, जिससे दांत और मसूड़ों से जुड़ी परेशानियां हो सकती है।

बेचैनी की हो सकती है समस्या

रात में चाय का सेवन करने से बेचैनी की शिकायत भी हो सकती है। क्योंकि चाय में कैफीन और टैनिन पाया जाता है, जो घबराहट (anxiety) की समस्या को बढ़ा सकता है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।


Edited by Rakshita Srivastava

Comments

Fetching more content...