ताली बजाने के फायदे - Taali bajane ke fayde

ताली बजाने के फायदे( फोटो-Youtube)
ताली बजाने के फायदे( फोटो-Youtube)

किसी भी खुशी को जाहिर करने के लिए या किसी की तारीफ में लोग अक्सर ही ताली ( Clapping) बजाते हैं। लेकिन क्या आपको पता है ताली बजाने से आपके सेहत को कितना लाभ पहुंचता है। ताली बजाना सेहत के लिए काफी फायदेमंद माना जाता है। ताली बजाने से कई बड़े रोग भी दूर होते हैं। ताली बजाना से सिर्फ शारीरिक ही नहीं बल्कि मानसिक स्वास्थ्य भी अच्छा रहता है। जानिए ताली बजाने के फायदों के बारे में कुछ बातें।

ताली बजाने के फायदे- (taali bajane ke fayde in hindi)

कोलेस्ट्रॉल लेवल करता है कम

ताली बजाने से रक्त में मौजूद कोलेस्ट्रॉल (Cholestrol) का स्तर कम होता है। क्योंकि इससे रक्त संचार बेहतर तरीकों से होता है। जिससे कोलेस्ट्रॉल लेवल आसानी से कम हो जाता है।

यादादश्त बढ़ती है

ताली बजाने से शरीर के सभी ऑगर्नस को पॉजिटीव एनर्जी मिलती है। माइंड रिलैक्स भी रहता है। साथ ही यादादश्त (Memory) भी बढ़ती है।

बल्ड प्रेशर रहता है कंट्रोल

जिनको बल्ड प्रेशर (Blood pressure) की बीमारी होती है। उनको रोजाना कम से कम दिनभर में 1500 बार ताली बजाना चाहिए। ताली बजाने से बल्ड प्रेशर कंट्रोल में रहता है।

डायबिटीज में फायदेमंद

ताली बजाना डायबिटीज रोगियों के लिए काफी फायदेमंद माना जाता है। डायबिटीज मरीजों को रोजाना सुबह उठकर कम से कम 15 मिनट तक ताली बजाना चाहिए। इससे शुगर लेवल कंट्रोल रहता है।

बालों को झड़ने से रोकता है

ताली बजाने से बालों के झड़ने (Hair fall) की शिकायत भी कम होती है। रोजाना ताली बजाने से बाल घने होते हैं। साथ ही बाल टूटने की समस्या भी कम हो जाती है।

गठिया में फायदेमंद

ताली बजाने से उगलियों और पैरों का रक्त संचार तीव्र गति से होता है। जो कि सीधे नसों को प्रभावित करता है। जिससे गठिया जैसी बीमारी ठीक हो जाती है।

लीवर की समस्या को करता है दूर

ताली बजाने से लीवर (Liver) की समस्या दूर हो जाती है। रोजाना सुबह-शाम 10 मिनट ताली बजाने से लीवर संबंधी कोई बीमारी नहीं होती है।

मोटापा होता है कम

ताली बजाने से मोटापा कम होता है। जिनको अपना वजन कम करना हो उनको रोजाना ताली बजाना चाहिए। इससे शरीर में जमा चर्बी तेजी से घटती है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।