Sitz bath क्या है? जानिए इससे जुड़े 5 फायदे

Sitz bath क्या है? जानिए इससे जुड़े 5 फायदे (फोटो - sportskeedaहिन्दी)
Sitz bath क्या है? जानिए इससे जुड़े 5 फायदे (फोटो - sportskeedaहिन्दी)

सिटज़ बाथ (Sitz Bath) एक चिकित्सीय स्नान है जहाँ केवल कूल्हों और नितंबों को पानी में डुबोया जाता है। यह आमतौर पर श्रोणि क्षेत्र में दर्द और बेचैनी को दूर करने के लिए उपयोग किया जाता है और अक्सर बवासीर, गुदा विदर और प्रसवोत्तर उपचार जैसी स्थितियों के लिए इसकी सिफारिश की जाती है। इस लेख में, हम सिटज़ बाथ के फ़ायदों और इसे करने के तरीके के बारे में जानेंगे।

Sitz bath क्या है? जानिए इससे जुड़े 5 फायदे (What Is a Sitz Bath? Know 5 Benefits Related To It In Hindi)

youtube-cover

1. दर्द से राहत (Pain Relief)

सिटज़ बाथ श्रोणि क्षेत्र में दर्द और बेचैनी से राहत दिलाने में मदद कर सकता है। गर्म पानी क्षेत्र में रक्त के प्रवाह को बढ़ाने में मदद करता है, जो सूजन को कम करने और उपचार को बढ़ावा देने में मदद कर सकता है। यह इसे बवासीर, गुदा विदर, और योनि या पेरिनियल आँसू जैसी स्थितियों के लिए एक प्रभावी उपाय बनाता है।

2. बेहतर स्वच्छता (Improved Hygiene)

सिटज़ बाथ क्षेत्र को साफ करने के लिए एक सौम्य और प्रभावी तरीका प्रदान करके श्रोणि क्षेत्र में स्वच्छता में सुधार करने में मदद कर सकता है। यह उन महिलाओं के लिए विशेष रूप से महत्वपूर्ण है जिन्होंने हाल ही में जन्म दिया है या ऐसे व्यक्ति हैं जिनकी श्रोणि क्षेत्र में सर्जरी हुई है।

3. विश्राम (Relaxation)

सिट्ज़ बाथ एक आरामदेह और सुखदायक अनुभव हो सकता है। गर्म पानी और कोमल मालिश तनाव को कम करने और विश्राम को बढ़ावा देने में मदद कर सकती है। यह इसे मासिक धर्म में ऐंठन और एंडोमेट्रियोसिस जैसी स्थितियों के लिए एक प्रभावी उपाय बनाता है।

4. बढ़ा हुआ ब्लड सर्कुलेशन (Increased Blood Circulation)

सिटज़ बाथ श्रोणि क्षेत्र में रक्त परिसंचरण को बढ़ाने में मदद कर सकता है। यह सूजन और सूजन को कम करने और उपचार को बढ़ावा देने में मदद कर सकता है। यह जननांगों में रक्त के प्रवाह को बढ़ाकर यौन स्वास्थ्य को बेहतर बनाने में भी मदद कर सकता है।

5. बवासीर से राहत (Hemorrhoid Relief)

बवासीर के लक्षणों से राहत पाने के लिए आमतौर पर सिट्ज़ बाथ का उपयोग किया जाता है। गर्म पानी सूजन और सूजन को कम करने में मदद करता है, जबकि कोमल मालिश परिसंचरण में सुधार और उपचार को बढ़ावा देने में मदद कर सकती है।

सिट्ज़ बाथ कैसे करें (How to take a Sitz bath)

1. एक साफ बाथटब या सिट्ज़ बाथ में गर्म पानी भरें। पानी इतना गहरा होना चाहिए कि कूल्हों और नितंबों को ढक सके।

2. इप्सॉम नमक, विच हेज़ल, या आवश्यक तेलों जैसे कोई वांछित जोड़ जोड़ें।

3. 10-20 मिनट के लिए पानी में बैठें, सुनिश्चित करें कि पूरा श्रोणि क्षेत्र डूबा हुआ है।

4. एक साफ तौलिये से उस जगह को थपथपा कर सुखाएं।

सिट्ज़ बाथ करते समय उचित स्वच्छता प्रथाओं का पालन करना महत्वपूर्ण है। सुनिश्चित करें कि प्रत्येक उपयोग से पहले बाथटब या सिट्ज़ बाथ को अच्छी तरह से साफ किया जाता है, और ऐसे स्नान उत्पादों का उपयोग करने से बचें जो त्वचा को परेशान कर सकते हैं।

अंत में, सिटज़ बाथ श्रोणि क्षेत्र में दर्द और बेचैनी से राहत पाने का एक सरल और प्रभावी तरीका है। वे स्वच्छता में सुधार करने, विश्राम को बढ़ावा देने और रक्त परिसंचरण को बढ़ाने में मदद कर सकते हैं। यदि आप श्रोणि क्षेत्र में दर्द या बेचैनी का अनुभव कर रहे हैं, तो सिट्ज़ बाथ एक सुरक्षित और प्रभावी उपाय हो सकता है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Vineeta Kumar