Create
Notifications

गेहूं के आटे के फायदे - Wheat Flour Benefits

गेहूं के आटे के फायदे (फोटो - sportskeedaहिन्दी)
गेहूं के आटे के फायदे (फोटो - sportskeedaहिन्दी)
reaction-emoji
Vineeta Kumar
visit

वर्षों से ही गेहूं का उपयोग हर तरह के खान-पान में किया जाता है, ख़ास कर कि आटे के रूप में। कार्बोहाइड्रेट से भरपूर चीजों में गेहूं का आटा पहले स्थान पर आता है। गेहूं के आटे को सेहत के लिए अच्छा माना जाता है। भारत में गेहूं के आटे का सबसे अधिक इस्तेमाल किया जाता है, ज़्यादातर घरों में गेहूं के आटे की रोटी बनाई जाती है। गेहूं से कई और भी तरह के स्वादिष्ट, खाद्य पदार्थ तैयार किए जाते हैं। इसका चोकर जानवरों के लिए बहुत उपयोगी होता है। गेहूं का सेवन कई प्रकार की बीमारियों में भी मदद करता है। इसमें आयुर्वेदीय गुणों का भरपूर भंडार है और इसकी तासीर ठंडी होती है। यह आटा चिकना होता है तथा गैस और पित्त को नियंत्रित करने में मददगार होता है। आइये इस लेख के माध्यम से गेहूं के आटे से शरीर को होने वाले फायदों को जानते हैं।

गेहूं के आटे के फायदे - Wheat Flour Benefits In Hindi

गेहूं के आटे का उपयोग : Uses Of Wheat Flour In Hindi

गेहूं के आटे का उपयोग रोटी-परांठा, पूरियां, बेक्ड बन, पेनकेक्स, डार्क चॉकलेट, चॉकलेट, कुकीज़, आटे के बिस्किट, आटे का लेप, लप्सी आदि बनाने में किया जाता है।

1. शरीर में ऊर्जा बनाए रखने के लिए (Provides energy)

गेहूं के आटे में कार्बोहाइड्रेट्स भरपूर मात्रा में होता है। यह कार्बोहाइड्रेट्स शरीर में ग्लूकोस के निर्माण में सहायक है, हमारे शरीर को ऊर्जा की ज़रूरत होती है, ऐसे में गेहूं के आटे की रोटी का सेवन लाभदायक होता है।

2. ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करे (Controls high blood pressure)

गेहूं के आटे का सेवन करने से ब्लड प्रेशर के स्तर को नियंत्रित करने में मदद मिलती है। इसलिए यदि आप हाई ब्लड प्रेशर से पीड़ित हैं तो गेहूं के आटे की रोटी का उपयोग आपके लिए फ़ायदेमंद हो सकता है।

3. एनीमिया (Anemia)

एनीमिया की समस्या को दूर करने में गेहूं का सेवन लाभकारी होता है, क्योंकि गेहूं में आयरन की प्रचुर मात्रा पायी जाती है जो कि हीमोग्लोबिन की कमी को दूर कर एनीमिया की स्थिति में सुधार लाने में मदद करता है।

4. पेट संबंधी समस्याओं में (For stomach related problems)

अगर आप कब्ज की समस्या से परेशान हैं तो गेहूं के आटे का प्रयोग विशेष रूप से चोकर युक्त आटे का सेवन कब्ज को दूर करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है, क्योंकि इसमें लैक्सटिव का गुण होता है।

5. जलने पर आटे का उपयोग करें (Use the flour as pack for burnt skin)

यदि आग से हाथ या उंगली जल जाने पर गेहूं के आटे का लेप लगाया जाए तो जलन से होने वाले दर्द, सूजन में आराम मिलता है। गेहूं के आटे का लेप बनाकर लगाने से खुजली, जलन तथा फुंसियां ठीक होती हैं।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।


Edited by Vineeta Kumar
reaction-emoji
Article image

Go to article
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now