Hockey World League Semi Final: भारतीय टीम को कनाडा के हाथों झेलना पड़ी शिकस्त

भारतीय हॉकी टीम को रविवार को कनाडा के हाथों 2-3 से शिकस्त झेलना पड़ी। इस जीत के साथ ही कनाडा की टीम लंदन में जारी हीरो हॉकी वर्ल्ड लीग सेमीफाइनल में पांचवें स्थान पर रही और उसने 2018 ओडिशा हॉकी पुरुष वर्ल्ड कप के लिए अपनी जगह पक्की की। भारतीय टीम ने छठें पर रहकर अपने अभियान का समापन किया। कनाडा की तरफ से गॉर्डोन जोंसटन (3' और 44') व कीगन पेरीरा (40') ने गोल किए। भारत की तरफ से हरमनप्रीत सिंह ने 7वें और 22वें मिनट में गोल किए। भारत को मुकाबले जीतने का प्रबल दावेदार माना जा रहा था। मगर कनाडा ने अद्भुत खेल दिखाते हुए भारत को बैकफुट पर रखा। गॉर्डोन ने तीसरे ही मिनट में गोल करके कनाडा को 1-0 की बढ़त दिलाई। जोंसटन ने गॉर्डोन को शानदार फ्लिक पास किया, जिसे खिलाड़ी ने भारतीय कीपर विकास दहिया के पास से जाली में भेदने में देरी नहीं की। चार मिनट के बाद ही भारत ने हरमनप्रीत सिंह द्वारा किए आकर्षक गोल की बदौलत 1-1 की बराबरी कर ली। यह हरमनप्रीत सिंह का टूर्नामेंट में पांचवां गोल रहा। उन्होंने दाईं तरफ से जाली के कॉर्नर में गेंद को भेजा। अगले कुछ मिनटों में भारत को दो पेनल्टी कॉर्नर मिले, लेकिन वो मिले मौकों का फायदा नहीं उठा सका। दूसरे क्वार्टर में भारत ने तीन पेनल्टी कॉर्नर हासिल किए, लेकिन एक बार फिर टीम के हाथ निराशा लगी क्योंकि वो तीनों बार गोल करने में नाकाम रहे। 22वें मिनट में हरमनप्रीत ने सरदार सिंह द्वारा मिले शानदार पास को कनाडाई कीपर के पास से गोल पोस्ट के अंदर भेदा और भारत को 2-1 की बढ़त दिलाई। भारतीय टीम ने इसके बाद गोल करने के कई मौके गंवाए। हालांकि, कनाडा ने 40वें मिनट में कीगन द्वारा किए शानदार गोल की बदौलत स्कोर 2-2 से बराबर किया। गॉर्डोन ने 44वें मिनट में गोल करके कनाडा की जीत सुनिश्चित कर दी। भारत ने अंत में अपने प्रहारों की गति बढ़ाई, लेकिन वो गोल करने में कामयाब नहीं हुई।