Create
Notifications

भारतीय हॉकी कप्‍तान ने मनप्रीत सिंह ने बताया, कोरोना वायरस को किस तरह दे सकते हैं मात

मनप्रीत सिंह
मनप्रीत सिंह
Vivek Goel

भारतीय पुरुष हॉकी टीम के कप्‍तान मनप्रीत सिंह 7 अगस्‍त की दोपहर का समय भूल नहीं पाते, जब उनके साथ चार अन्‍य खिलाड़‍ियों को अधिकारियों ने बताया था कि वह कोविड-19 टेस्‍ट में पॉजिटिव पाए गए थे। टोक्‍यो ओलंपिक की तैयारी के लिए नेशनल कैंप में मनप्रीत सिंह सहित हॉकी टीम के सदस्‍य भारतीय खेल प्राधिकरण (साई) के बेंगलुरु केंद्र में हिस्‍सा लेने पहुंचे थे। एक महीने के लंबे ब्रेक के बाद सब पहुंचे थे।

मनप्रीत सिंह ने मंगलवार को टीओआई से बातचीत में बताया कि उन्‍होंने किस तरह सफलतापूर्वक वायरस को मात दी। मनप्रीत सिंह ने कहा, 'वो बहुत हैरानी और मानसिक रूप से दबाव वाली बात थी। पहली बात मन में आई कि ऐसा कैसे संभव है? मैं इसकी चपेट में कैसे आया? मेरे माता-पिता, परिवार के सदस्‍य और पंजाब के दोस्‍त सभी टेस्‍ट में निगेटिव आए। दिमाग में कई सवाल घूम रहे थे।'

मनप्रीत सिंह ने आगे कहा, 'जब हम कैंप में आएं, तो 14 दिन के पृथकवास में रहे और अपने आप को एकांतवास में रखा। बाद में मुझे एहसास हुआ कि मुझे खुशबू या स्‍वाद का एहसास खत्‍म हो गया था। मैंने आरटी-पीसीआर टेस्‍ट कराया और वायरस से संक्रमित पाया गया। संभवत: बेंगलुरु की फ्लाइट में किसी से हुआ हो।'

मनप्रीत सिंह ने मानी इनकी बात

हालांकि, इससे परेशान होने के बजाय मनप्रीत सिंह ने मुश्किल स्थिति के लिए अपनी कमर कसी और साई व हॉकी इंडिया के मेडिकल टीम की बात शांत दिमाग से मानना शुरू की। मनप्रीत सिंह ने कहा, 'मेरा उपचार करने वाले अधिकारियों और डॉक्‍टर्स ने कहा कि घबराने की कोई बात नहीं है और मैं इस बीमारी से उबर जाउंगा। इस वायरस के साथ समस्‍या यह है कि इसमें सामाजिक कलंक जुड़ा है। जो भी इस वायरस से संक्रमित होते हैं, मैं उनका कहना चाहूंगा कि मैं इसका पीड़‍ित रहा हूं और सफलतापूर्वक बीमारी को मात दी है। अगर आप विचारों से सकारात्‍मक रहेंगे, डॉक्‍टर्स की सलाह मानेंगे, समय पर दवाई का सेवन करेंगे, अपने आप को एकांतवास करेंगे और मास्‍क व सामाजिक दूरी का पालन करेंगे तो इन सभी की मदद से वायरस को मात दे सकते हैं।'

मनप्रीत सिंह ने कहा, 'जब मैं अस्‍पताल में भर्ती था तो मैंने कभी अपने विचारों को नकारात्‍मक नहीं होने दिया। मेरा उपचार में विश्‍वास था कि सभी भर्ती हुए हॉकी सदस्‍य समय से ठीक हो जाएंगे। हमारा उपचार बराबर हुआ और प्रत्‍येक मिनट में ऑक्‍सीजन स्‍तर पर‍ निगरानी रखी गई। हमने निरंतर जुम बैठकों में हिस्‍सा लिया और अपने टीम के साथियों से जुड़े रहे।'

कोविड-19 के बाद रिकवरी कैसी रही तो मनप्रीत सिंह ने जवाब दिया, 'कोविड-19 प्रभावित खिलाड़‍ियों के लिए निजी ट्रेनिंग कार्यक्रम तैयार किया गया। हम कुछ सप्‍ताह बाद ट्रेनिंग पर लौटे। इससे पहले ईसीजी, खून की जांच और सीने का एक्‍स-रे कराया। इस समय हम 60-70 क्षमतवा वाली ट्रेनिंग कर रहे हैं। हमने थोड़ी एक्‍सरसाइज शुरू की है। '


Edited by निशांत द्रविड़

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...