भारतीय महिला हॉकी टीम की कप्‍तान रानी रामपाल सहित सात सदस्‍य कोविड पॉजिटिव

भारतीय महिला हॉकी टीम
भारतीय महिला हॉकी टीम

भारतीय महिला हॉकी टीम की खिलाड़ी भी कोरोना वायरस के कहर से बच नहीं पाईं हैं। कप्तान रानी रामपाल सहित भारतीय महिला हॉकी टीम की सात खिलाड़ियों और सहयोगी स्टाफ के दो सदस्यों को बेंगलुरु स्थित भारतीय खेल प्राधिकरण (साई) में शुरू होने वाले अभ्यास शिविर से पहले कोविड-19 टेस्‍ट में पॉजिटिव पाया गया है।

बेंगलुरु के साई सेंटर ने खिलाड़ियों और सहयोगी सदस्यों के कोविड-19 पॉजिटिव होने की जानकारी देते हुए बताया कि सभी को पृथकवास में निगरानी में रखा गया है।

साई के मुताबिक, 'ये खिलाड़ी और सहयोगी सदस्य अपने गृह नगर से साई के बेंगलुरु परिसर में आए थे और प्रोटोकॉल के मुताबिक पृथकवास समय पूरा करने के बाद 24 अप्रैल को सभी की कोरोना वायरस की जांच की गई थी। रानी रामपाल के अलावा पॉजिटिव आने वाली खिलाड़ियों में सविता पूनिया, शर्मिला देवी, रजनी, नवजोत कौर, नवनीत कौर और सुशीला हैं। इसके अलावा, वीडियो विश्लेषक अमृतप्रकाश और वैज्ञानिक सलाहकार वेन लोम्बार्ड भी कोरोना वायरस से संक्रमित मिले है।'

भारतीय खिलाड़‍ियों को पृथकवास में रखा गया

साईं ने आगे जानकारी दी, 'सभी खिलाड़ी और सहायक कर्मचारियों में इसके लक्षण नहीं दिख रहे है और उन्हें 'साई एनसीओई' में पृथकवास पर रखा गया है।'

भारतीय हॉकी टीम की कोर समूह 10 दिनों के विश्राम के बाद टोक्यो ओलंपिक की तैयारियों के तहत बेंगलुरु में राष्ट्रीय शिविर में भाग लेने के लिए पहुंची थी। अभ्यास शुरू करने से पहले 25 सदस्यों का कोर समूह अनिवार्य पृथकवास पर था।

टीम ने जनवरी में अर्जेंटीना का दौरा किया था। भारतीय टीम को मेजबान देश की जूनियर टीम ने पहले दो मैचों में ड्रॉ पर रोक दिया। इसके बाद उसे अर्जेंटीना बी के खिलाफ दो मैचों में हार का सामना करना पड़ा। फिर दुनिया की नंबर दो सीनियर टीम के खिलाफ भी दो मैचों में हार का सामना करना पड़ा था। टीम ने इसके बाद फरवरी मार्च में जर्मनी का दौरा किया, जहां उसे विश्व रैंकिंग में तीसरे स्थान पर काबिज टीम के खिलाफ चारों मैचों में शिकस्त मिली थी।

Edited by Vivek Goel
App download animated image Get the free App now