Create

प्रो कबड्डी 2019: गुजरात फॉर्च्यूनजॉयंट्स की शुरुआती मैचों के लिए संभावित प्लेइंग सेवेन

गुजरात फॉर्च्यूनजॉयंट्स
गुजरात फॉर्च्यूनजॉयंट्स
Neeraj Pandey

पांचवें सीजन में प्रो कबड्डी लीग ज्वाइन करने वाली गुजरात फॉर्च्यूनजॉयंट्स काफी सफल टीम रही है। मनप्रीत सिंह की कोचिंग में खेलने वाली गुजरात ने दो सीजन खेले हैं और दोनों ही सीजन वे फाइनल में पहुंचे हैं। हालांकि, दोनों ही मौकों पर टीम को निराशा हाथ लगी और उन्हें रनर-अप मेडल के साथ ही संतोष करना पड़ा।

इस सीजन की तैयारी में एक बार फिर गुजरात ने अपने युवा और टैलेंटेड खिलाड़ियों पर भरोसा जताया है। सुनील कुमार और परेवश भैंसवाल की जोड़ी एक बार फिर गुजरात के लिए शानदार साबित हो सकती है। विनोद कुमार भी डिफेंस में बढ़िया सहयोग दे सकते हैं तो वहीं ऋतुराज कोरावी के डाइविंग टैकल्स को देखकर एक बार फिर फैंस को झूमने का मौका मिलेगा।

गुजरात के लिए लेफ्ट कॉर्नर और लेफ्ट-इन की जगह पर कौन खेलेगा यह सबसे बड़ा सवाल है। अबुलफज़ल मग्सुद्लू और मोरे जीबी दोनों ही टैकल करने के लिए नहीं जाने जाते हैं जिसका मतलब है कि विनोद कुमार पर ज़्यादा प्रेशर पड़ेगा और उन्हें रेड में भी प्वाइंट लाने होंगे।

सातवें सीजन की शुरुआत से पहले एक नजर डालते हैं इस सीजन गुजरात की संभावित प्लेइंग सेवन पर।

यह भी पढ़ें: प्रो कबड्डी 2019: सभी 12 टीमों की रेटिंग

लेफ्ट कॉर्नर: सोनू गहलावत

गुजरात के लिए लेफ्ट कॉर्नर पोजीशन को युवा खिलाड़ी सोनू गहलावत संभाल सकते हैं। सोनू इस सीजन अपना प्रो कबड्डी लीग डेब्यू करेंगे और टीम में मौजूद विकल्पों में सोनू सबसे उपयुक्त विकल्प साबित हो सकते हैं। हमने पहले भी देखा है कि मनप्रीत सिंह ने युवा टैलेंट्स पर भरोसा दिखाकर उनका बेस्ट निकाला है और इसी कारण इस सीजन सोनू के साथ भी ऐसा होता देखने की पूरी उम्मीद की जा सकती है।

पिछले सीजन गुजरात ने सचिन को लेफ्ट कॉर्नर पर उतारा था, लेकिन इस सीजन के लिए उनको रिलीज कर दिया गया है। इस सीजन छह लाख रूपए में खरीदे गए सोनू गुजरात के लिए लेफ्ट कॉर्नर पर उतारने के लिए इकलौते विकल्प होंगे।

लेफ्ट इन: अबुलफज़ल मग्सुद्लू

इस साल की नीलामी में खरीदे गए खिलाड़ियों में से एक हैं ईरान के रेडर अबुलफज़ल मग्सुद्लू जिन्होंने तीसरे सीजन में यू मुंबा के लिए अपना प्रो कबड्डी लीग डेब्यू किया था। प्रो कबड्डी के पांचवे सीजन में अबुलफज़ल मग्सुद्लू ने अपना बेस्ट प्रदर्शन किया और 97 अंक हासिल किए।

विपक्षी डिफेंडर को आउट करने के लिए रनिंग हेंड टच उनका सबसे मजबूत हथियार है। भले ही उनके लिए पिछला सीजन काफी निराशाजनक रहा था, लेकिन मनप्रीत के अंडर इस सीजन वह आग उगल सकते हैं।

यह भी पढ़ें: प्रो कबड्डी 2019: सभी 12 टीमों में किस टीम की रेडिंग है सबसे ज़्यादा मजबूत

लेफ्ट कवर: परवेश भैंसवाल

सातवें सीजन से पहले परवेश भैंसवाल को रिलीज करके गुजरात ने सभी को चौंका दिया था, लेकिन नीलामी में एक बार फिर उन्होंने अपने स्टार खिलाड़ी को 75 लाख रूपए में खरीदा। प्रो कबड्डी लीग में गुजरात की सफलता के पीछे परवेश का बड़ा हाथ रहा है।

पांचवें सीजन से ही वह टीम के साथ रहे हैं और उन्होंने 134 अंक हासिल किए हैं। पिछले सीजन उन्होंने 86 टैकल प्वाइंट हासिल किए थे। ब्लॉक स्पेशलिस्ट कहे जाने वाले परवेश सातवें सीजन में भी अपना बेस्ट देने की कोशिश करेंगे।

सेंटर: सचिन तंवर

सचिन तंवर ने पांचवें सीजन में गुजरात की टीम को एक युवा खिलाड़ी के रूप में ज्वाइन किया था, लेकिन दो सीजन के बाद वह टीम के सबसे बेहतरीन खिलाड़ियों में से एक बन चुके हैं। सचिन ने गुजरात के लिए 47 मैच खेले हैं जिनमें उन्होंने 349 रेड प्वाइंट हासिल किए हैं। 14 सुपर टेन लगा चुके सचिन ने अपनी टीम को कई मैच जिताए हैं। सचिन ने तीन सुपर टैकल सहित 28 टैकल प्वाइंट हासिल करके टीम को डिफेंस में भी मदद दी है।

यह भी पढ़ें: प्रो कबड्डी 2019: 5 टीमें जिनका प्लेऑफ में पहुंचना मुश्किल नजर आ रहा है

राइट कवर: सुनील कुमार (कप्तान)

छठे सीजन में सुनील कुमार को टीम का कप्तान बना दिया गया था जिससे काफी लोगों को आश्चर्य भी हुआ था, लेकिन युवा खिलाड़ी ने टीम को फाइनल में पहुंचाकर सबका मुंह बंद कर दिया था। सुनील ने हमेशा राइट कवर के तौर पर ही खेला है, लेकिन कप्तानी ने उनकी जिम्मेदारी बढ़ाने का काम किया है।

49 मैचों में 134 अंक हासिल कर चुके सुनील पिछले दो सीजन में लीग के सबसे बेहतरीन राइट कवर में से एक रहे हैं। सूनील-परवेश की कवर जोड़ी ने लीग में सबको प्रभावित किया है।

राइट इन: रोहित गुलिया

प्रो कबड्डी लीग के हिटमैन रोहित गुलिया भी उन खिलाड़ियों में से एक हैं जिन्होंने मनप्रीत सिंह के अंडर शानदार प्रदर्शन किया है। गुलिया को पांचवें सीजन में फ्यूचर कबड्डी हीरोज प्रोग्राम के तहत चुना गया था, लेकिन उनके खेल से कभी ऐसा लगा हूी नहीं कि वह युवा खिलाड़ी हैं।

भले ही आंकड़े उनके खेल के बारे में सही कहानी बयां नहीं करते, लेकिन उन्होंने गुजरात के लिए शानदार प्रदर्शन किया है। मनप्रीत सिंह ने इस साल कई टैलेंटेड खिलाड़ी खरीदे हैं तो शायद गुलिया को कुछ मैचों में स्टार्टिंग सेवेन में जगह नही मिलेगी।

राइट कॉर्नर: रुतुराज कोरावी

रुतुराज कोरावी ने पिछले सीजन अपना प्रो कबड्डी लीग डेब्यू किया और गुजरात के बेहतरीन खिलाड़ियों में से एक रहे। लीग का बिल्कुल अनुभव नहीं होने के बावजूद उन्होंने 23 मैचों में 47 टैकल प्वाइंट हासिल किए। हर मैच में उनका टैकल औसत 1.91 का है, लेकिन 100 प्रतिशत नॉटआउट रहने के उनके रिकॉर्ड ने गुजरात को काफी फायदा पहुंचाया है। रुतुराज कोरावी गुजरात के लिए राइट कॉर्नर पर सबसे बेहतरीन विकल्प होंगे।

Edited by मयंक मेहता

Comments

Quick Links

More from Sportskeeda
Fetching more content...