Asian Games 2023 : रोइंग में भारत के खाते में आए दो और मेडल, बजरंग पदक से चूके

रोइंग में पुरुष 4 स्पर्धा में कांस्य पदक जीतने के बाद भारतीय टीम।
रोइंग में पुरुष 4 स्पर्धा में कांस्य पदक जीतने के बाद भारतीय टीम।

19वें एशियन गेम्स में रोइंग की सभी स्पर्धाओं का समापन हो गया है। चीन के हांगझाओ में आयोजित हो रहे इन खेलों के दूसरे दिन भारत को रोइंग में दो कांस्य पदक हासिल हुए। पुरुषों की क्वाड्रपल स्कल्स स्पर्धा के फाइनल में भारतीय दल को तीसरा स्थान हासिल हुआ जबकि पुरुषों की फोर फाइनल में भी भारतीय टीम तीसरे स्थान पर रही। रविवार के दिन भारत को रोइंग में 1 सिल्वर समेत कुल 3 मेडल हासिल हुए थे।

पुरुषों की फोर फाइलन स्पर्धा में भारत के जसविंदर सिंह, भीम सिंह, पुनीत कुमार और आशीष ने 6 मिनट 10 सेकेंड 81 मिलिसेकेंड का समय लेकर तीसरा स्थान हासिल किया। भारतीय टीम काफी नजदीकी अंतर से सिल्वर मेडल से चूक गई। चीन की टीम ने 6 मिनट 10 सेकेंड 4 मिलिसेकेंड के साथ दूसरा स्थान और एक सेकेंड से भी कम के अंतर से भारतीय टीम के हाथों से दूसरा स्थान निकल गया। जबकि उजबेकिस्तानी टीम 6 मिनट 4 सेकेंड के साथ गोल्ड जीतने में कामयाब रही।

पुरुष क्वाड्रपल स्कल्स स्पर्धा के फाइनल में सतनाम सिंह, परिमिंदर सिंह, जाकर खान और सुखमीत सिंह ने मिलकर भारत को तीसरा स्थान दिलाने में कामयाबी हासिल की। स्पर्धा का गोल्ड चीन के नाम रहा जबकि उजबेकिस्तान को सिल्वर मिला। पुरुषों की स्कल्स एकल स्पर्धा में भारत के बलराज पंवार पदक से चूक गए और चौथे स्थान पर रहे। वहीं महिलाओं में आठ खिलाड़ियों की स्पर्धा में भारतीय टीम पांचवे स्थान पर रही।

एशियन गेम्स इतिहास में भारत के नाम रोइंग में दो गोल्ड आए हैं। साल 2010 के ग्वांगझाओ एशियाड में भारत के बजरंग लाल ने पुरुष एकल स्कल्स में गोल्ड जीता था। इससे पहले 2006 में वह इसी स्पर्धा में सिल्वर जीतने में कामयाब रहे थे। इसके अलावा 2018 के एशियाई खेलों में भारत ने पुरुषों की क्वाड्रपल स्कल्स का टीम गोल्ड जीता था।

Edited by Prashant