Create
Notifications
Get the free App now
Favorites Edit
Advertisement

ISSF World Cup: मिक्स्ड टीम इवेंट में अंजू मोदगिल और दिव्यांश सिंह की जोड़ी ने जीता गोल्ड मेडल, अपूर्वी चंदेला और दीपक कुमार को रजत पदक

  • भारत को कुल मिलाकर इस इवेंट में 4 गोल्ड मेडल मिल चुके हैं
SENIOR ANALYST
न्यूज़
Modified 30 May 2019, 19:18 IST

Enter caption

जर्मनी के म्यूनिख में हो रहे ISSF वर्ल्ड कप से एक और अच्छी खबर सामने आई है। 10 मीटर एयर राइफल मिक्स्ड टीम इवेंट में अंजू मोदगिल और दिव्यांश सिंह पंवार की जोड़ी ने गोल्ड मेडल अपने नाम किया है। फाइनल मुकाबले में उन्होंने भारत की ही अपूर्वी चंदेला और दीपक कुमार की जोड़ी को पछाड़ा, जिन्होंने सिल्वर मेडल अपने नाम किया।

अंजू मोदगिल और दिव्यांश सिंह ने मिलकर 631.9 का स्कोर किया, वहीं अपूर्वी चंदेला और दीपक कुमार की जोड़ी ने 630.2 का स्कोर किया और वे दूसरे स्थान पर रहे। अपूर्वी चंदेला ने इससे पहले 10 मीटर एयर राइफल में स्वर्ण पदक जीता था। अंजू मोदगिल, दिव्यांश सिंह पंवार और अपूर्वी चंदेला टोक्यो ओलंपिक के लिए पहले ही अपना कोटा पक्का कर चुके हैं। सितंबर 2018 में मोदगिल और चंदेला 2020 टोक्यो ओलंपिक के लिए कोटा हासिल करने वाली पहली भारतीय खिलाड़ी बनी थी।

भारत को ISSF वर्ल्ड कप में अभी तक कुल मिलाकर 4 गोल्ड मेडल मिल चुके हैं और वो अंक तालिका में पहले पायदान पर है। इससे पहले महिलाओं के 25 मीटर पिस्टल इवेंट में राही सरनोबत ने स्वर्ण पदक अपने नाम किया था । इस जीत के साथ ही राही ने 2020 में होने वाले टोक्यो ओलंपिक के लिए अपना स्थान भी पक्का कर लिया है।

इससे पहले 17 वर्षीय सौरभ चौधरी ने 10 मीटर एयर पिस्टल में स्वर्ण पदक अपने नाम किया था। फाइनल मुकाबले में 246.3 का स्कोर कर उन्होंने अपना ही रिकॉर्ड तोड़ दिया था। इससे पहले 245 के स्कोर के साथ भी वर्ल्ड रिकॉर्ड उनके ही नाम था। सौरभ चौधरी पहले ही ओलंपिक के लिए कोटा हासिल कर चुके हैं। सौरभ 2018 में हुए यूथ ओलंपिक गेम्स और एशियन गेम्स में गोल्ड मेडल जीतकर भारत का नाम रोशन कर चुके हैं। सीनियर और जूनियर दोनों ही स्तर पर 10 मीटर एयर पिस्टल में उनके नाम वर्ल्ड रिकॉर्ड है।

Published 30 May 2019, 19:18 IST
Advertisement
Fetching more content...