Rio Olympics 2016, छठां दिन: पुरुष हॉकी टीम 36 साल बाद क्वार्टर फाइनल में पहुंची

ओलंपिक खेलों का छठा दिन भी भारत के लिए कुछ खास नहीं साबित हुआ। भारत की झोली में छठे दिन भी कोई मेडल हाथ नहीं लगा। स्टार शटलर साइना नेहवाल और पीवी सिंधु ने जीत के साथ शुरुआत की। भारतीय हॉकी टीम 36 साल बाद ओलंपिक के क्वार्टरफाइनल में पहुंची जबकि आर्चरी में दीपिका कुमारी और बोम्बायला देवी हारकर बाहर हो गई। आर्चरी (तीरंदाजी) राउंड ऑफ 16 के मैच में भारतीय महिला आर्चर्स का प्रदर्शन कुछ खास नहीं रहा और वो अपने विरोधियों से हारकर बाहर हो गईँ। बोम्बायला देवी एलाजेंद्रा वैलंसिया से 6-2 से और दीपिका कुमारी टैन या टिंग से 6-0 से हारकर टूर्नामेंट से बाहर हुई। इसके साथ ही दीपिका कुमारी का ओलंपिक में मेडल जीतने का सपना टूट गया। बॉक्सिंग बैंटमवेट कैटेगरी में भारत के शिव थापा अपना पहला मैच हारकर बाहर हो गए। शिव को मौजूदा ओलंपिक चैंपियन क्यूबा के रोबेसी रामी रेज ने 3-0 से हराया। बैडमिंटन बैडमिंटन में भारत के लिए कल का दिन मिला जुला रहा। विमेंस डबल्स में ज्वाला गुट्टा औऱ अश्विनी पोनप्पा की जोड़ी को जापान की नंबर 1 जोड़ी ने सीधे सेटों में मात दी। मनु अत्री और सुमिथ रेड्डी की पुरुषों की डबल्स जो़ड़ी भी पहले दौर के मैच में हारी। सिंगल्स में भारतीय खिलाड़ियों का प्रदर्शन अच्छा रहा। साइना नेहवाल, पीवी सिंधु और किदांबी श्रीकांत ने अपने-अपने मैच जीते। गोल्फ गोल्फ के पहले दिन भारत के एसएसपी चौरसिया 27 और अनिर्बान लाहिरी 50वें स्थान पर रहेहॉकी भारतीय पुरुष हॉकी ने नीदरलैंड्स के खिलाफ दमदार खेल दिखाया, लेकिन वो मैच में 2-1 से हार गए। हार के बावजूद भी भारतीय हॉकी टीम 36 साल बाद किसी ओलंपिक के क्वार्टर फाइनल में पहुंच गई है। भारत चौथे क्वार्टर के आखिर तक 1-2 से पिछड़ रही थी, मैच के आखिरी सेकेंड में भारत को पैनल्टी कॉर्नर मिला। भारत को लगातार 5 पैनल्टी कॉर्नर मिले, लेकिन वो उन्हें गोल में तब्दील नहीं कर पाए। भारतीय महिला हॉकी टीम को ग्रेट ब्रिटेन के हाथों 0-3 से हार का सामना करना पड़ा। टेनिस भारत के सानिया मिर्जा और रोहन बोपन्ना की मिक्स्ड डबल्स जोड़ी ने क्वार्टर फाइनल में जगह बना ली है। भारतीय जोड़ी ने ऑस्ट्रेलिया के सामंथा स्टोसर और जॉन पीयर्स को सीधे सेटों में 7-5, 6-4 से हराया।

Edited by Staff Editor