Australian Open : दो बार के उपविजेता और पूर्व विश्व नंबर 1 डेनिल मेदवेदेव तीसरे दौर में हारे

मेदवेदेव (बाएं) को तीसरे दौर में 22 साल के सबेस्टियन कोर्डा (दाएं) ने मात दी।
मेदवेदेव (बाएं) को तीसरे दौर में 22 साल के सबेस्टियन कोर्डा (दाएं) ने मात दी

ऑस्ट्रेलियन ओपन में इस बार पुरुष सिंगल्स में एक के बाद एक कई बड़े उलटफेर देखने को मिल रहे हैं। पूर्व विश्व नंबर 1 रूस के डेनिल मेदवेदेव अपने से निचली रैंकिंग वाले अमेरिका के सबेस्टियन कोर्डा के हाथों हारकर बाहर हो गए। सातवीं सीड मेदवेदेव को 29वीं वरीयता प्राप्त कोर्डा ने तीसरे दौर में 7-6, 6-3, 7-6 से मात दी।

मेदवेदेव पूर्व यूएस ओपन चैंपियन हैं और 2021, 2022 में ऑस्ट्रेलियन ओपन के उपविजेता रहे हैं। पहले प्वाइंट से ही कोर्डा ने काफी दमदार अंदाज की टेनिस खेली। पहले गेम में ही मेदवेदेव की सर्विस ब्रेक करने वाले कोर्डा ने टाईब्रेक में संतुलन बनाए रखा और सेट जीता। इसके बाद बाकी दो सेट भी कोर्डा ने अपने नाम कर सभी को चौंका दिया। करीब 3 घंटे चले मैच में मेदवेदेव ने प्रयास काफी किए लेकिन वापसी नहीं कर पाए।

दो दिन पहले ही गत विजेता और टॉप सीड राफेल नडाल टूर्नामेंट से बाहर हुए जबकि उनके बाद दूसरी सीड कैस्पर रूड भी उलटफेर का शिकार हुए थे। अब मेदवेदेव के बाहर जाने से मुकाबला रोचक हो गया है। इस हार के कारण मेदवेदेव टेनिस रैंकिंग में टॉप 10 से बाहर हो जाएंगे।

मेदवेदेव को बाहर करने वाले 22 साल के कोर्डा काफी समय से टेनिस सर्किट में अपनी पहचान बना रहे हैं। हाल ही में एडिलेड इंटरनेशनल के फाइनल में पहुंचने वाले कोर्डा 2018 में ऑस्ट्रेलियन ओपन के बालक वर्ग के चैंपियन रहे थे।

वह एक टेनिस परिवार से आते हैं। उनके पिता पीटर कोर्डा पूर्व विश्व नंबर 2 खिलाड़ी रह चुके हैं और साल 1998 में ऑस्ट्रेलियन ओपन पुरुष सिंगल्स चैंपियन बने थे। खास बात ये है कि कोर्डा ने पिछले साल पहली बार यहां मुख्य ड्रॉ में जगह बनाई थी। पिछले साल कोर्डा ने तीसरे दौर में जगह बनाई थी और अपने सफर में तत्कालीन विश्व नंबर 12 कैमरून नॉरी को मात दी थी।

App download animated image Get the free App now