Create

100 खिताब जीतने वाले रोजर फेडरर को हराकर थिएम ने जीता इंडियन वेल्स का खिताब

डोमिनिक थिएम

वर्ल्ड नंबर 8 डोमिनिक थिएम ने दिग्गज रोजर फेडरर को हराते हुए इंडियन वेल्स 2019 का खिताब अपने नाम कर लिया है। 25 वर्षीय खिलाड़ी थिएम पहली बार इंडियन वेल्स के फाइनल में पहुंचे थे। फेडरर इस टूर्नामेंट में नौवीं बार फाइनल में पहुंचे थे। 2 घंटे 2 मिनट चले इस मुकाबले में थिएम ने 3-6, 6-3 7-5 से फेडरर को हराते हुए इंडियन वेल्स का खिताब अपने नाम किया है। इस खिताब के साथ ही थिएम 1997 में थॉमस मुस्टर के बाद मास्टर्स 1000 के खिताब को जीतने वाले ऑस्ट्रिया के पहले खिलाड़ी बन गये हैं। हार्ड कोर्ट पर थिएम की फेडरर के खिलाफ यह पहली जीत है। यह थिएम का पहला मास्टर्स खिताब और करियर का 12वां खिताब है। फेडरर पांच बार इंडियन वेल्स का खिताब जीत चुके हैं। आखिरी बार फेडरर ने 2017 में यह खिताब जीता था। तब फाइनल में उन्होंने हमवतन स्टान वावरिंका को 6–4, 7–5 से हराया था।

फेडरर और थिएम के बीच यह पांचवीं भिड़ंत थी। इसमें थिएम 3 और फेडरर 2 बार जीत हासिल करने में सफल रहे हैं। थिएम ने इससे पहले आखिरी बार फेडरर को 2016 में स्टुटगार्ट के सेमीफाइनल में 3-6, 7-6, 6-4 से हराया था।

फाइनल से पहले थिएम ने सेमीफाइनल में कनाडा के वर्ल्ड नंबर-14 खिलाड़ी मिलोस राओनिक को 7-6, 6-7, 6-4 से हराया था। फाइनल में फेडरर ने तीन और थिएम ने एक ऐस लगाए। थिएम ने 3 जबकि फेडरर ने 2 डबल फाल्ट किए। हालांकि थिएम ने 3 बार ब्रेक पॉइंट हासिल किए, जबकि फेडरर दो बार ही ऐसा कर पाए।

दूसरे सेमीफाइनल में विश्व नंबर-2 स्पेन के राफेल नडाल घुटने की चोट के कारण खेल नहीं सके और इसी कारण फेडरर और नडाल के बीच होने वाले इस सेमीफाइनल में फेडरर को वॉक ओवर मिल गया। फेडरर और नडाल के बीच यह 39वां मैच था, जो खेला नहीं जा सका।

फेडरर ने हाल ही में दुबई में अपने करियर का 100वां खिताब जीता था, लेकिन वे इंडियन वेल्स में छठे खिताब का रिकार्ड नहीं बना सके। फेडरर और नोवाक जोकोविच ने इंडियन वेल्स का खिताब सबसे ज्यादा पांच-पांच बार जीता है। नडाल इस खिताब को 2007, 2009 और 2013 में जीत चुके हैं।

Edited by सावन गुप्ता
Be the first one to comment