फ्रेंच ओपन : दूसरी बार फाइनल में पहुंची विश्व नंबर 1 ईगा, 18 साल की कोको गॉफ से होगा सामना

ईगा और कोको गॉफ के बीच फाइनल मुकाबला शनिवार 4 जून को खेला जाएगा।
ईगा और कोको गॉफ के बीच फाइनल मुकाबला शनिवार 4 जून को खेला जाएगा।

टेनिस फैंस की उम्मीदों के मुताबिक ही विश्व नंबर 1 महिला टेनिस खिलाड़ी पोलैंड की ईगा स्वियातेक फ्रेंच ओपन महिला सिंगल्स के फाइनल में पहुंच गई हैं। अभी तक टूर्नामेंट में सिर्फ 1 सेट हारने वाली ईगा ने महिला सिंगल्स के पहले सेमीफाइनल में रूस की 20वीं सीड डारिया कास्तकिना को सीधे सेटों में 6-2, 6-1 से हराया। पिछले चार महीनों से टेनिस कोर्ट पर राज कर रही ईगा ने डारिया को कोई मौका नहीं दिया और सिर्फ 3 गेम गंवाते हुए साल 2020 के बाद दूसरी बार फाइनल में प्रवेश किया है। ईगा साल 2020 में यहां चैंपियन रह चुकी हैं।

ये इस सीजन ईगा की लगातार 34वीं जीत है और फिलहाल साल 2000 या उसके बाद सबसे लंबी जीत की स्ट्रीक के मामले में वो सेरेना विलियम्स के साथ दूसरे स्थान पर हैं। पहले नंबर पर सेरेना की बड़ी बहन वीनस विलियम्स हैं जिन्होंने साल 2000 में लगातार 35 मैच जीते थे।

18 साल की कोको से सामना

हाल ही में 21 साल की हुई ईगा का फाइनल में सामना 18 वीं सीड औऱ 18 वर्षीय अमेरिका की कोको गॉफ से होगा। गॉफ ने इटली की गैर वरीय मार्टिना ट्रेविसान को 6-3, 6-1 से हराकर पहली बार किसी ग्रैंड स्लैम फाइनल में प्रवेश किया है। 18 साल की कोको गॉफ पिछले 18 सालों में ग्रैंड स्लैम फाइनलिस्ट बनने वाली सबसे युवा महिला टेनिस खिलाड़ी हैं। उनसे पहले साल 2004 में रूस की मारिया शारापोवा ने 17 साल की उम्र में विम्बल्डन फाइनलिस्ट बनने का गौरव हासिल किया था और ये खिताब जीता भी था। यही नहीं टूर्नामेंट के 20 सालों के इतिहास में भी वो सबसे युवा फाइनलिस्ट हैं। साल 2001 में उनसे कम उम्र में बेल्जियम की किम क्लाइज्टर्स यहां फाइनल खेलीं थीं।