इंडियन वेल्स : ऑस्ट्रेलियन ओपन चैंपियन सबालेंका को हराकर रिबाकिना ने पहली बार जीता खिताब

अपने करियर के पहले WTA 1000 खिताब को थामे ऐलिना रिबाकिना।
अपने करियर के पहले WTA 1000 खिताब को थामे ऐलिना रिबाकिना

कजाकिस्तान की ऐलिना रिबाकिना ने अमेरिका में आयोजित इंडियन वेल्स WTA 1000 टूर्नामेंट का खिताब जीत लिया है। 10वीं सीड रिबाकिना ने फाइनल में इस साल की ऑस्ट्रेलियन ओपन विजेता और दूसरी वरीयता प्राप्त बेलारूस की आर्यना सबालेंका को 7-6, 6-4 से मात दी। इस जीत के साथ ही 2022 की विम्बल्डन चैंपियन रिबाकिना WTA रैंकिंग में तीन स्थान की छलांग लगाते हुए सातवें नंबर पर भी आ गई हैं।

रिबाकिना और सबालेंका इसी साल ऑस्ट्रेलियन ओपन के फाइनल में एक-दूसरे के खिलाफ खेली थीं जहां सबालेंका ने जीत हासिल की थी। लेकिन इंडियन वेल्स के फाइनल में कजाकिस्तान की रिबाकिना ने अपना ध्यान केंद्रित रखा और मैच अपने नाम किया। दोनों खिलाड़ियों के बीच पहले सेट में कड़ी टक्कर हुई और टाईब्रेक में सेट 13-11 से रिबाकिना ने जीता। दूसरे सेट में भी दोनों ने काफी अच्छा प्रदर्शन किया।

साल 2000 से यह तीसरा मौका है जब ऑस्ट्रेलियन ओपन का महिला सिंगल्स फाइनल खेलने वाली दोनों खिलाड़ी उसी साल इंडियन वेल्स के फाइनल में भी भिड़ी हों। इससे पहले साल 2000 में अमेरिका की लिंडसे डेवनपोर्ट और मार्टिना हिंगिस ने उस साल ऑस्ट्रेलियन ओपन और फिर इंडियन वेल्स का फाइनल खेला था, दोनों में डेवनपोर्ट की जीत हुई थी। वहीं साल 2012 में विक्टोरिया अजारेंका और मारिया शारापोवा भी दोनों टूर्नामेंट की फाइनलिस्ट रही थीं।

रिबाकिना के करियर का यह पहला WTA 1000 खिताब है। टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में रिबाकिना ने विश्व नंबर 1 और गत चैंपियन ईगा स्वियातेक को आसानी से हराया था जिसके बाद फाइनल में उनकी जीत प्रबल मानी जा रही थी। इस खिताब को जीतने वाली रिबाकिना पहली कजाकिस्तानी खिलाड़ी हैं। वहीं सबालेंका के लिए यह इस सीजन की दूसरी हार है जबकि अपने करियर में सबालेंका इससे पहले खेले गए चार WTA 1000 फाइनल में नहीं हारीं थीं। इस हार के बाद भी सबालेंका WTA रैंकिंग में नंबर 2 पर बनी रहेंगी।

App download animated image Get the free App now