Create

टेनिस : अंपायर की चेयर पर हमला करने पर ज्वेरेव पर हुई कार्रवाई, मैक्सिको ओपन से किए गए बाहर

ज्वेरेव ने डबल्स मुकाबला हारने के बाद चेयर अंपायर पर हमला किया था।
ज्वेरेव ने डबल्स मुकाबला हारने के बाद चेयर अंपायर पर हमला किया था।

दुनिया के तीसरे नंबर के टेनिस खिलाड़ी जर्मनी के ऐलेग्जेंडर ज्वेरेव को मैक्सिकन ओपन से बाहर कर दिया गया है। ज्वेरेव ने पुरुष डबल्स के मुकाबले में हारने के बाद चेयर अंपायर की चेयर पर अपने रैकेट से तीन बार हमला किया जिसके बाद उनकी हरकत को देखते हुए एटीपी द्वारा उन्हें सिंगल्स मुकाबले से भी बाहर कर दिया गया। ज्वेरेव डबल्स मुकाबले के दौरान निर्णायक सेट में अंपायर की ओर से लिए गए फैसलों से नाराज थे। हालांकि ज्वरेव ने अपने बर्ताव को गलत बताकर माफी मांगी, लेकिन दुनियाभर के टेनिस प्रेमी उनकी इस हरकत से खासे नाराज हैं।

Alexander Zverev has been THROWN OUT of the Mexican Open for attacking the umpire's chair at the end of his doubles match 😮😮😮 https://t.co/CWhQ1r6kwj

अंपायर को दी गालियां, जमकर दिखाया गुस्सा

मैच के बाद अंपायर की चेयर पर प्रहार करते ज्वेरेव।
मैच के बाद अंपायर की चेयर पर प्रहार करते ज्वेरेव।

विश्व नंबर 3 ज्वेरेव मैक्सिकन ओपन के सिंगल्स के गत विजेता हैं और डबल्स में भी भाग ले रहे थे। ज्वेरेव ने अपने डबल्स मुकाबले के कुछ ही घंटे पहले ऐतिहासिक सिंगल्स मैच खेला था जहां उनके प्रतिद्वंदी अमेरिकी के जेन्सन ब्रूक्सबी ने करीब साढ़े तीन घंटे चला मुकाबला खेला जो सुबह करीब 5 बजे खत्म हुआ था। इस मैच के कुछ घंटों बाद पुरुष डबल्स के पहले दौर के मैच में ज्वेरेव ब्राजील के अपने जोड़ीदार मार्सेलो मेलो के साथ उतरे। ज्वेरेव-मेलो की जोड़ी का सामना ब्रिटेन के लॉयड ग्लासपूल और फिनलैंड के हारी हेलिवारा से था। पहला सेट लॉयड-हारी ने 6-2 से जीता तो दूसरे सेट में ज्वेरेव-मेलो ने 6-4 से जीत दर्ज की। तीसरे और निर्णायक सेट में टाइब्रेक के दौरान जब ज्वेरेव-मेलो 6-7 से पीछे चल रहे थे, तब चेयर अंपायर ने लॉयड-हारी के एक रिटर्न शॉट को इन (कोर्ट के अंदर) करार दिया और अंक लॉयड-हारी के पक्ष में गया।

अपनी शर्मनाक हरकत के लिए ज्वेरेव ने ये पोस्ट शेयर किया।
अपनी शर्मनाक हरकत के लिए ज्वेरेव ने ये पोस्ट शेयर किया।

ज्वेरेव इस कॉल से नाराज हुए और अंपायर एलेहांद्रो जर्मानी को इशारा कर समझाने लगे कि गेंद कोर्ट से बाहर गई थी। अपनी बात का असर न होता देख ज्वेरेव ने अंपायर को गुस्से में अपशब्द भी कहे। खेल वापस शुरु हुआ और लॉयड-हारी ने सेट 10-6 से जीतकर मुकाबला 6-2, 4-6, 10-6 से अपने नाम कर लिया। मैच खत्म होते ही ज्वेरेव गुस्से में अंपायर की चेयर के पास गए और उनके पैरों पर हमला करते हुए चेयर को तीन बार रैकेट से मारा। ज्वेरेव की इस हरकत से वहां मौजूद सभी दर्शक और खुद अंपायर भी हैरान हो गए। मैच के बाद एटीपी ने ज्वेरेव को पूरे टूर्नामेंट से बाहर कर दिया। ज्वरेव ने भी अपनी हरकत के लिए माफी मांगी। नियम के हिसाब से इस टूर्नामेंट से ज्वेरेव को कोई रैंकिंग अंक या धनराशि नहीं मिलेगी। इसके साथ ही उनके खिलाफ निलंबन जैसी कार्रवाई भी हो सकती है।

गुस्से के लिए हैं मशहूर

tw ZverevZverev HIT the chair and then looked straight in the Umpires eyes. He’s literally not afraid of the consequences at ALL this is so terrifying. He knows he can get away with virtually anything https://t.co/F2bosG6OQU

वैसे ज्वेरेव अपने गुस्से के लिए पहले से ही बदनाम हैं। पिछले ही साल उनकी गर्लफ्रेंड ने ज्वेरेव पर घरेलू हिंसा के आरोप लगाए थे जिसकी जांच एटीपी की ओर से की गई। अब मैक्सिकन ओपन में गई हरकत के बाद सोशल मीडिया पर फैंस ज्वेरेव के गुस्से को लेकर और भड़क गए हैं। पूर्व विश्व नंबर 1 खिलाड़ी ब्रिटेन के ऐंडी मरे ने भी ज्वेरेव की हरकत पर हैरानी जताई है और इसे गलत बताया है।

Edited by Prashant Kumar
Be the first one to comment