Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

यूएस ओपन 2020: बोपन्‍ना-शापोवालोव क्‍वार्टर फाइनल में हारे, भारत की चुनौती खत्‍म

Photo - Twitter
Photo - Twitter
Vivek Goel
ANALYST
Modified 08 Sep 2020, 19:39 IST
न्यूज़
Advertisement

यूएस ओपन में भारतीय चुनौती समाप्‍त हो चुकी है। भारत की एकमात्र आशा बचे रोहन बोपन्‍ना और उनके कनाडाई जोड़ीदार डेनिस शापोवालोव को यूएस ओपन में पुरुष डबल्‍स के क्‍वार्टर फाइनल में शिकस्‍त का सामना करना पड़ा। यह जोड़ी अब यूएस ओपन से बाहर हो चुकी है। बोपन्‍ना-शापोवालोव को नीदरलैंड्स के जीन जूलियन रोजर और रोमानिया के होरिया तकाउ की जोड़ी ने 7-5, 7-5 से शिकस्‍त दी। रोहन बोपन्‍ना और डेनिस शापोवालोव की जोड़ी ने एक घंटे और 26 मिनट तक संघर्ष किया।

बोपन्‍ना-शापोवालोव की जोड़ी ने यूएस ओपन के क्‍वार्टर फाइनल में दोनों सेट में अपनी सर्विस गंवाई और दूसरे सेट में जब उनके पास ब्रेक करने का मौका आया, तो उसे भुनाने में चूक गए। बहरहाल, रोहन बोपन्‍ना का यह ग्रैंड स्‍लैम में 2018 के बाद से सर्वश्रेष्‍ठ प्रदर्शन है। 2018 में बोपन्‍ना ने यूएस ओपन और फ्रेंच ओपन दोनों के क्‍वार्टर फाइनल में प्रवेश किया था। बता दें कि भारत के दिविज शरण और सुमित नागल पहले ही यूएस ओपन से बाहर हो चुके हैं।

यूएस ओपन में सेरेना विलियम्‍स की दमदार जीत

सेरेना विलियम्स ने मारिया सकारी के खिलाफ तीन सेट तक चले संघर्षपूर्ण मैच में जीत दर्ज करके लगातार 12वीं बार यूएस ओपन टेनिस टूर्नामेंट के क्वार्टर फाइनल में अपनी जगह पक्की की। तीसरी वरीयता प्राप्त सेरेना ने खुद ही अपना उत्साह बढ़ाया और यूनान की 15वीं वरीय सकारी को यूएस ओपन के प्री क्‍वार्टर फाइनल मुकाबले में 6-3, 6-7 (6), 6-3 से मात दी। याद हो कि सकारी ने वेस्टर्न एंड सदर्न ओपन में सेरेना को पराजित किया था। सेरेना यूएस ओपन के मैच के दौरान जोर जोर से बोलकर खुद का हौसला बढ़ाती रही।

यूएस ओपन मुकाबले के दौरान जोर-जोर से बोलकर खुद का उत्‍साह बढ़ाने वाली बात पर सेरेना ने कहा, 'मुझे लगता है कि दर्शक हों या नहीं मैं काफी बोलती हूं। मैं बेहद जुनूनी हूं। यह मेरा काम है। मैं इस तरह से खुद का हौसला बढ़ाती हूं। मैं कोर्ट पर अपना सब कुछ झोंक देती हूं।'

38 वर्ष की सेरेना विलियम्‍स सेमीफाइनल में पहुंचने के लिए बुल्गारिया की गैरवरीयता प्राप्त स्वेताना पिरिनकोवा से भिड़ेगी। बच्चे के जन्म के कारण तीन साल तक बाहर रहने के बाद वापसी करने वाली 32 वर्षीय पिरिनकोवा ने एलिज कोर्नेट पर 6-4, 7-6 (5), 6-3 से जीत दर्ज की। अमेरिका की दूसरी वरीयता प्राप्त सोफिया केनिन हालांकि चौथे दौर से आगे नहीं बढ़ पाईं।

बेल्जियम की 16वीं वरीय एलिस मर्टेन्स ने उन्हें सीधे सेटों में 6-3, 6-3 से पराजित किया। इस तरह से केनिन का लगातार दो ग्रैंडस्लैम खिताब जीतने का सपना भी टूट गया। केनिन ने इस साल ऑस्ट्रेलियाई ओपन का खिताब जीता था। मर्टेन्स का सामना गैरवरीय विक्टोरिया अजारेंका से होगा जिन्होंने चेक गणराज्य की 20वीं वरीय कारोलिना मुचोवा को 5-7, 6-1, 6-4 से हराया। अजारेंका की यह लगातार नौवीं जीत है। उन्होंने इससे पहले वेस्टर्न एंड सदर्न ओपन में खिताब जीता था जो न्यूयार्क में ही जैव सुरक्षित वातावरण में खेला गया था।

Published 08 Sep 2020, 19:39 IST
Advertisement
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now
❤️ Favorites Edit