प्राग ओपन - सुमित नागल का सफर क्‍वार्टर फाइनल में हुआ समाप्‍त

सुमित नागल
सुमित नागल

भारत के सुमित नागल ने तीन बार के ग्रैंड स्‍लैम चैंपियन स्‍टान वावरिंका के खिलाफ धमाकेदार शुरूआत करते हुए प्राग ओपन के क्‍वार्टर फाइनल में पहला सेट जीता। मगर अगले दो सेट में सुमित नागल ने अपनी लय गंवाई और मुकाबला हार गए। सुमित नागल ने एटीपी चैलेंजर टूर इवेंट के पहले सेट में 6-2 की बढ़त बनाकर उलटफेर करने के संकेत दिए, लेकिन स्विस स्‍टार ने जोरदार वापसी करते हुए अगले 13 में से 12 गेम जीत लिए।

23 साल के सुमित नागल ने वावरिंका की सर्विस ब्रेक करते हुए पहला सेट जीता, लेकिन फिर उलटफेर करने में नाकाम रहे। 127वीं रैंक वाले सुमित नागल पर 17वीं रैंक वाले स्‍टान वावरिंका भारी पड़े और मुकाबला एक घंटे और 19 मिनट में 2-6, 6-0, 6-1 से अपने नाम किया। इसी के साथ स्‍टान वावरिंका ने प्राग ओपन के सेमीफाइनल में अपनी जगह पक्‍की कर ली है।

वावरिंका के सामने नहीं टिक सके सुमित नागल

सुमित नागल ने पहले सेट में दो बार वावरिंका की सर्विस तोड़ी, लेकिन फिर भारतीय टेनिस खिलाड़ी कहीं नजर नहीं आए। वावरिंका ने जैसे ही अपनी सर्विस पर पकड़ बनाई और फॉरहैंड के दमदार शॉट खेलना शुरू किए, तो सुमित नागल पूरी तरह मुकाबले से बाहर हो गए। वावरिंका ने दूसरे सेट में सुमित नागल को कोई मौका नहीं दिया और 6-0 से स्‍कोर लाइन अपने पक्ष में की। इसके बाद तीसरे सेट में भी स्‍टान वावरिंक अपनी पूरी लय में नजर आए और आसानी से सुमित नागल को मात दी।

उल्‍लेखनीय है कि सुमित नागल ने पिछले साल यूएस ओपन में स्विस स्‍टार रोजर फेडरर को भी पहले सेट में मात दी थी। हालांकि, फिर फेडरर ने अपनी लय में लौटने के बाद मुकाबला जीत लिया था। पता हो कि सुमित नागल को यूएस ओपन में सीधे प्रवेश मिला है, जिसकी शुरूआत 31 अगस्‍त को होगी।

सुमित नागल ने पिछले साल यूएस ओपन के माध्‍यम से ग्रैंड स्‍लैम डेब्‍यू किया था। पहले ही राउंड में सुमित नागल का सामना रोजर फेडरर से हुआ था। इसके बाद से सुमित नागल ने रैंकिंग में सुधार किया और शीर्ष रैंकिंग वाले भारतीय टेनिस खिलाड़ी बने। एटीपी रैंकिंग के हिसाब से सीधे प्रवेश पाने वालों में सुमित नागल अकेले रहे।

App download animated image Get the free App now