Create

आखिर क्यों विम्बल्डन में सिर्फ सफेद ड्रेस में ही खेलते दिखते हैं खिलाड़ी

विम्बल्डन में ड्रेस से लेकर जुराबें और जूते भी सफेद रंग के होने का नियम है।
विम्बल्डन में ड्रेस से लेकर जुराबें और जूते भी सफेद रंग के होने का नियम है।

साल के तीसरे ग्रैंड स्लैम विम्बल्डन को टेनिस की दुनिया का सबसे प्रतिष्ठित खिताब माना जाता है। ऑल इंग्लैंड लॉन टेनिस क्लब की ओर से लंदन में साल 1877 से आयोजित हो रही इस प्रतियोगिता में परंपराओं का काफी महत्वपूर्ण रोल रहा है। ऐसी ही एक पंरपरा है इस प्रतियोगिता में भाग लेने वाले खिलाड़ियों के लिए जो सिर्फ और सिर्फ सफेद रंग के कपड़ों में इस टूर्नामेंट में भाग लेते हैं और ये सिर्फ परंपरा नहीं बल्कि इस प्रतियोगिता का एक अहम नियम भी है।

विम्बल्डन की वेबसाइट पर आधिकारिक रूप से सफेद ड्रेस कोड के नियम भी दिए गए हैं।
विम्बल्डन की वेबसाइट पर आधिकारिक रूप से सफेद ड्रेस कोड के नियम भी दिए गए हैं।

प्रतियोगिता के शुरुआती दौर में जब इसके आयोजन के नियम लिखे जा रहे थे, उस समय अमीर लोग ही टेनिस जैसे खेल के समय और धनराशि खर्च कर पाते थे और इन लोगों को खेलते समय पसीना आना लाजिमी था। माना जाता है कि क्योंकि सफेद रंग के कपड़ों में अन्य रंगों के कपड़ों के मुकाबले पसीने के दाग कम दिखते थे, तो पसीने के दाग कोर्ट पर कम से कम दिखें, इसी कारण से सफेद रंग पहनने का दौर शुरु हुआ और ये परंपरा और नियम दोनों में शामिल हो गया।

आज भी विम्बल्डन के आयोजकों की ओर से जारी ड्रेस कोड में साफ तौर पर लिखा गया है कि कोर्ट के आसपास एंट्री करने के समय से ही खिलाड़ी सफेद कपड़ों में हों। नियम के मुताबिक यह रंग ऑफ-व्हाइट या क्रीम नहीं हो सकता, और सिर्फ पूरी तरह सफेद होना चाहिए। ड्रेस में किसी तरह के अन्य रंग की पट्टी भी नहीं हो सकती। सिर्फ कॉलर और बाजुओं के कफ पर पट्टी किसी अन्य रंग की हो सकती है लेकिन वो भी 1 सेंटीमीटर से ज्यादा चौड़ी नहीं हो सकती। आप हैरान होंगे कि ये दूसरे रंग की पट्टी 1 सेंटीमीटर से ज्यादा ना हो, इसे जांचने के लिए खिलाड़ी की ड्रेस पर बनी पट्टी को नापे जाने का प्रावधान भी है।

विम्बल्ड में खिलाड़ियों के ड्रेस पर स्पॉन्सर लोगो से ज्यादा कुछ नहीं होता।
विम्बल्ड में खिलाड़ियों के ड्रेस पर स्पॉन्सर लोगो से ज्यादा कुछ नहीं होता।

यही नहीं महिला खिलाड़ियों द्वारा स्कर्ट के नीचे पहने जाने वाले शॉर्ट्स भी सफेद होने चाहिए, खिलाड़ियों की टोपी, हेडबैंड, कलाई के बैंड, यहां तक की जुराब और जूते भी सफेद हों, ऐसा कोड में बकायदा लिखा गया है। जो खिलाड़ी इनमें से किसी नियम को नहीं फॉलो करते उनके खिलाफ आयोजक कार्यवाही भी करते हैं। साल 2014 में ड्रेस कोड की के लिए 10 बिन्दुओं के नए नियम भी जोड़े गए। वैसे सिर्फ विम्बल्डन ही नहीं, साल के बाकि बचे 3 ग्रैंड स्लैम में भी ड्रेस कोड को लेकर कुछ नियम हैं लेकिन ये विम्बल्डन जितने सख्त नहीं हैं। यूएस ओपन में साल 1972 से पहले तक सफेद ड्रेस कोड था जिसे बाद में बदला गया।

Edited by Prashant Kumar
Be the first one to comment