Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

यूथ ओलंपिक में जेरेमी लालरिननुंगा ने गोल्ड जीतकर लहराया भारत का परचम

Piyush
CONTRIBUTOR
न्यूज़
09 Oct 2018, 12:12 IST

Enter caption


15 वर्षीय जेरेमी लालरिननुंगा ने यूथ ओलंपिक में शानदार प्रदर्शन करते हुए पुरुषों के 62 किलोग्राम वेटलिफ्टिंग वर्ग में भारत को पहला गोल्ड जिताया। जेरेमी ने स्नैच में 124 किलो जबकि क्लीन एंड जर्क के साथ 150 किलो वजन उठाते हुए कुल 274 किलो भार उठाकर खिताब को अपने खाते में दर्ज किया। सोमवार रात को अर्जेंटीना की राजधानी में हुए इस मुकाबले में उन्होंने तुर्की के टॉपटस कानेर और कोलंबिया के विलर एस्टिवन को पछाड़कर सोने का तमगा हासिल किया। कानेर ने 263 किलोग्राम (122 किग्रा+144 किग्रा) और एस्टिवन ने 260 किलोग्राम (115 किग्रा+143किग्रा) वजन उठाया था। 

जेरेमी ने स्नैच में 120 किलोग्राम और क्लीन एंड जेर्क में 143 किग्रा यानी 263 किलो भार उठाने की घोषणा की थी। लेकिन आखिर में जेरेमी ने 274 किलोग्राम का भार उठाया। यूथ ओलंपिक से पहले जेरेमी का निजी सर्वश्रेष्ठ 273 किलोग्राम (स्नैच + क्लीन और जर्क) था, जिसे उन्होंने पिछले महीने एनआईएस पटियाला में एक कार्यक्रम के दौरान हासिल किया था। इससे पहले 15 वर्षीय जेरेमी ने इस वर्ष 251 किलोग्राम की कुल लिफ्ट पूरी की थी। जेरेमी ने ब्यूनस आयर्स में 274 किलोग्राम भार उठाकर अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया। जेरेमी ने अपने एक बयान में कहा था कि वो किसी भी सीनियर वेटलिफ्टर के साथ भार उठाने में पूरी तरह सक्षम हैं। जेरेमी पिछले दो सालों से आर्मी स्पोर्ट्स इंस्टीट्यूट के साथ प्रशिक्षण कर रहे है।

राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय आयोजनों में कुछ अच्छे परिणामों के साथ युवा खिलाड़ी ने अपनी काबिलियत से सभी का परिचय कराया है। अभी हाल ही में उन्होंने 2016 पेनांग में विश्व युवा चैम्पियनशिप और 2017 में बैंकाक में रजत पदक जीता। यूथ ओलंपिक खेलों के लिए अर्जेंटीना पहुंचने से पहले जेरेमी ने एशियाई और जूनियर चैंपियनशिप के अलावा राष्ट्रमंडल खेलों में भी पदक जीते। जेरेमी मिजोरम के रहने वाले है । इस साल 16 अक्टूबर को उनकी उम्र 16 वर्ष हो जाएगी। इस खिलाड़ी को भारतीय भारोत्तोलन में अगले बड़े नाम के रूप में देखा जा रहा है।


Advertisement
Advertisement
Fetching more content...