Create

'मैं फिट नहीं हूं': दो बार के ओलंपिक मेडलिस्‍ट सुशील कुमार ने नेशनल चैंपियनशिप्‍स से नाम वापस लिया

सुशील कुमार
सुशील कुमार

दो बार के ओलंपिक मेडलिस्‍ट सुशील कुमार ने फिटनेस चिंता के चलते नेशनल रेसलिंग चैंपियनशिप्‍स से अपना नाम वापस ले लिया है। 2008 ओलंपिक्‍स में ब्रॉन्‍ज मेडल और 2012 लंदन ओलंपिक्‍स में सिल्‍वर मेडल जीतने वाले सुशील कुमार को भरोसा है कि वह जल्‍द ही फिट होकर प्रतिस्‍पर्धा करेंगे ताकि टोक्‍यो ओलंपिक्‍स के लिए अपनी दावेदारी पेश कर सकें। अनुभवी पहलवान सुशील कुमार 2019 में 64वीं सीनियर नेशनल रेसलिंग चैंपियनशिप का हिस्‍सा भी नहीं थे।

सुशील कुमार ने द ट्रिब्‍यून से बातचीत करते हुए कहा, 'मैं फिट नहीं हूं, इसलिए मैंने टूर्नामेंट से हटने का फैसला किया है। मुझे करीब डेढ़ महीने तक प्रतियोगिता में हिस्‍सा लेने के लिए ट्रेनिंग की जरूरत है। मगर चूकि वह फिट नहीं हैं तो सुशील कुमार का मानना है कि सिर्फ हिस्‍सा लेने का कोई फायदा नहीं।' सुशील कुमार का 74 किग्रा वजन वर्ग में हिस्‍सा नहीं लेने का मतलब है कि उनकी फाइट नरसिंह यादव से नहीं हो पाएगी।

सुशील कुमार अभी संन्‍यास के बारे में कुछ नहीं सोच रहे हैं

पद्म श्री अवॉर्ड विजेता सुशील कुमार ने इस साल की शुरूआत में संन्‍यास की अफवाहों को खारिज कर दिया था। सुशील कुमार ने कहा था, 'मेरा प्रमुख ध्‍यान ओलंपिक्‍स के लिए क्‍वालीफाई करना है और इसके बाद ही मैं अन्‍य चीजों के लिए योजना तैयार करूंगा।'

37 साल के सुशील कुमार ने आखिरी बार 2018 कॉमनवेल्‍थ गेम्‍स में हिस्‍सा लिया था, जहां उन्‍होंने 74 किग्रा फ्रीस्‍टाइल रेसलिंग वर्ग में गोल्‍ड मेडल जीता था। प्रमुख पहलवान और टोक्‍यो ओलंपिक्‍स में मेडल की आशा बजरंग पूनिया इस समय अमेरिका के मिचिगन में ट्रेनिंग कर रहे हैं। उन्‍होंने भी नेशनल में हिस्‍सा नहीं लेने का फैसला किया है।

विनेश फोगाट भी नेशनल में हिस्‍सा नहीं लेंगी। वह अपनी टीम के साथ हंगरी और पौलेंड के दौरे पर रहेंगी। खेल मंत्रालय ने 40 दिवसीय ट्रेनिंग में हिस्‍सा लेने की अनुमति दे दी है। नेशनल के पुरुष फ्रीस्‍टाइल इवेंट नोएडा में 23 जनवरी से आयोजित होगा जब‍कि ग्रीको रोमन इवेंट पंजाब फरवरी में होगा। इस बीच महिलाओं के लिए नेशनल अगस्‍त में आयोजित किया जाएगा।

इसके अलावा सुशील कुमार एसजीएफआई में फर्जीवाड़े का खुलासा करने में भी जुटे हुए हैं। सुशील कुमार का आरोप है कि उनके जाली दस्‍तखत करके कोई एसजीएफआई के उप-कानूनों को बदलने की कोशिश कर रहा है। सुशील कुमार एसजीएफआई महासचिव मिश्रा के खिलाफ सख्‍त कानूनी कार्रवाई की मांग करेंगे। सुशील कुमार ने कहा, 'मैं आपको भरोसा दिलाता हूं कि एसजीएफआई में मैं चीजें ठीक करूंगा और स्‍कूल के बच्‍चों के लिए इसे शानदार मंच बनाउंगा। पुलिस मामले की जांच कर रही है और वह मुजरिम को सजा देगी।'

Quick Links

Edited by Vivek Goel
Be the first one to comment