Create

2 कारण क्यों WWE और यूनिवर्सल चैंपियनशिप को एक करना सही रहेगा और 2 क्यों गलत रहेगा 

WWE WrestleMania 38 में यूनिवर्सल चैंपियनशिप और WWE चैंपियनशिप को एक कर दिया जाएगा
WWE WrestleMania 38 में यूनिवर्सल चैंपियनशिप और WWE चैंपियनशिप को एक कर दिया जाएगा

WWE SmackDown में पिछले हफ्ते WWE चैंपियन ब्रॉक लैसनर (Brock Lesnar) और यूनिवर्सल चैंपियन रोमन रेंस (Roman Reigns) के बीच कॉन्ट्रैक्ट साइनिंग सैगमेंट देखने को मिला। इस सैगमेंट के दौरान ऐलान हुआ कि रेसलमेनिया 38 (WrestleMania 38) में होने जा रहा रोमन रेंस vs ब्रॉक लैसनर का मैच वर्ल्ड टाइटल यूनिफिकेशन मैच होगा। इसका मतलब यह है कि इस मैच के बाद WWE और यूनिवर्सल चैंपियनशिप को एक कर दिया जाएगा।

इस बड़े ऐलान के बाद से ही WrestleMania में होने जा रहे ब्रॉक लैसनर vs रोमन रेंस के मैच को लेकर रोमांच कई गुना बढ़ चुका है। कई लोग WWE और यूनिवर्सल चैंपियनशिप को एक किये जाने की खबर सामने आने के बाद नाखुश दिखाई दे रहे हैं और उनका मानना है कि इससे WWE प्रोडक्ट पर असर पड़ेगा। इस आर्टिकल में हम ऐसे 2 कारणों का जिक्र करने वाले हैं कि क्यों WWE और यूनिवर्सल चैंपियनशिप को एक करना सही रहेगा और 2 कारण क्यों गलत रहेगा।

1- WWE और यूनिवर्सल चैंपियनशिप को एक करना सही रहेगा: बेहतर वर्ल्ड चैंपियनशिप स्टोरीलाइन देखने को मिल पाएगी

WWE में वर्तमान समय में Raw और SmackDown के लिए दो अलग-अलग वर्ल्ड चैंपियनशिप है। इस वजह से WWE को अपने दोनों वर्ल्ड चैंपियनशिप के लिए अलग-अलग स्टोरीलाइन तैयार करनी पड़ती है। कई बार ऐसा देखने को मिल चुका है कि इन दोनों वर्ल्ड चैंपियनशिप में से एक की स्टोरीलाइन फैंस को कुछ खास पसंद नहीं आई थी। उदाहरण के लिए, Elimination Chamber 2022 के बिल्ड-अप के दौरान रोमन रेंस vs गोल्डबर्ग के यूनिवर्सल चैंपियनशिप पिक्चर स्टोरीलाइन से फैंस ज्यादा प्रभावित नहीं दिखाई दे रहे थे।

हालांकि, WWE और यूनिवर्सल चैंपियनशिप के एक हो जाने के बाद कंपनी को दो अलग-अलग स्टोरीलाइन नहीं बनानी पड़ेगी। इन दोनों चैंपियनशिप के एक होने जाने के बाद WWE को वर्ल्ड चैंपियनशिप के लिए एक ही स्टोरीलाइन पर काम करना होगा। इस वजह से कंपनी में वर्ल्ड चैंपियनशिप के लिए बेहतर स्टोरीलाइन देखने को मिल पाएगी।

1- WWE और यूनिवर्सल चैंपियनशिप को एक करना सही नहीं रहेगा: WWE में काफी कम सुपरस्टार्स को वर्ल्ड चैंपियनशिप पिक्चर में मौका मिल पाएगा

WWE पिछले कुछ सालों में भले ही बड़ी संख्या में अपने सुपरस्टार्स को रिलीज कर चुकी हो लेकिन कंपनी में अभी भी टैलेंटेड सुपरस्टार्स की भरमार है। देखा जाए तो WWE में वर्तमान समय में दो अलग-अलग वर्ल्ड चैंपियनशिप होने की वजह से ज्यादा सुपरस्टार्स को वर्ल्ड चैंपियनशिप पिक्चर में आने का मौका मिल पाता है।

हालांकि, WWE और यूनिवर्सल चैंपियनशिप के एक किये जाने के बाद काफी कम सुपरस्टार्स को वर्ल्ड चैंपियनशिप पिक्चर में आने का मौका मिल पाएगा। इस वजह से कई डिजर्विंग सुपरस्टार्स का सही इस्तेमाल नहीं हो पाएगा और यह चीज़ फैंस को शायद ही पसंद आएगी।

2- WWE और यूनिवर्सल चैंपियनशिप को एक करना सही रहेगा: WWE मिड कार्ड चैंपियनशिप को बेहतर तरीके से बुक करना शुरू कर सकती है

WWE में वर्तमान समय में यूएस चैंपियनशिप और आईसी चैंपियनशिप के लिए कुछ खास स्टोरीलाइन तैयार नहीं की जा रही है। खासकर, आईसी चैंपियनशिप को लंबे समय से काफी साधारण तरीके से बुक किया जा रहा है और इस वजह से इस टाइटल के वैल्यू में काफी कमी आई है। हालांकि, WWE और यूनिवर्सल चैंपियनशिप के एक होने के बाद कंपनी में केवल एक वर्ल्ड चैंपियनशिप रह जाएगी।

यही कारण है संभावना है कि इसके बाद यूएस और आईसी चैंपियनशिप के लिए बेहतरीन स्टोरीलाइन की जा सकती है। संभावना यह भी है कि कुछ बड़े सुपरस्टार्स को यूएस और आईसी चैंपियनशिप स्टोरीलाइन में शामिल करके इन दोनों चैंपियनशिप की स्टोरीलाइन को रोचक बनाने की कोशिश की जा सकती है।

2- WWE और यूनिवर्सल चैंपियनशिप को एक करना सही नहीं रहेगा: WWE में ब्रांड स्पिल्ट का मतलब नहीं रह जाएगा

WWE में साल 2016 में ब्रांड स्पिल्ट लागू करते हुए Raw और SmackDown के लिए अलग-अलग रोस्टर बना दिए गए थे। हालांकि, WWE और यूनिवर्सल चैंपियनशिप के एक होने के बाद नया वर्ल्ड चैंपियन Raw और SmackDown में से किसी भी ब्रांड में जा सकेगा और वर्ल्ड चैंपियनशिप के चैलेंजर को भी Raw और SmackDown दोनों ब्रांड में इस्तेमाल किया जा सकेगा।

इस प्रकार, WWE में ब्रांड स्पिल्ट का कोई मतलब नहीं रह जाएगा। यही नहीं, इस वजह से Survivor Series में वर्ल्ड चैंपियंस के बीच मैच भी देखने को नहीं मिल पाएगा। संभावना यह भी है कि इसके बाद ब्रांड स्पिल्ट को समाप्त करने का फैसला किया जा सकता है।

Quick Links

Edited by Subham Pal
Be the first one to comment